jamshedpur@inext.co.in
JAMSHEDPUR:
मानगो निवासी बिल्डर बरकातुल्लाह को गोलमुरी पुलिस ने 65 लाख 63 हजार 750 रुपये के फर्जीवाड़ा में गिरफ्तार कर रविवार को कोर्ट में पेश किया. अदालत ने उसे जेल भेज दिया है. बिल्डर बरकातुल्लाह व उसके सेल्स मैनेजर अब्दुल्ला के खिलाफ गोलमुरी निवासी साईमा कैसर के बयान पर थाने में 18 सितंबर को मामला दर्ज किया गया था.

महिला ने पुलिस से कहा था कि मेरे पति रोजगार के सिलसिले में हमेशा विदेश में रहते हैं. ग्रेट इंडिया ग्रुप कंपनी का कार्यालय पर्ल हाउस काशीडीह में है. कंपनी के प्रबंध निदेशक व सेल्स मैनेजर अब्दुल्ला मेरे घर पर मई 2013 में आया. उसने रड़गांव में स्टार सिटी के नाम से प्लाटिंग टाउनशीप और देवनगर साकची में बसंत द्वार फ्लैट प्रोजेक्ट में जमीन-फ्लैट खरीदने का प्रस्ताव दिया. यह भी आश्वासन दिया कि कंपनी जमीन की देखरेख करेगी और फ्लैट नहीं देने से तीस लाख रुपये वापस कर देगी. महिला के अनुसार कंपनी के निदेशक की बातों पर भरोसा कर में रड़गांव प्रोजेक्ट के लिए 31200 वर्गफीट जमीन बुक कर दी. जमीन के लिए 11 लाख 21 हजार 250 रुपये तथा फ्लैट के लिए 15 लाख रुपये दे चुकी हूं.

आज सात साल के बाद कुल रकम 65 लाख 63 हजार 750 रुपये उसके पास बकाया है. जब मैं जमीन की रजिस्ट्री के लिए मैं और मेरे पति गए तो बहाना बनाकर टालता रहा. तीन माह के बाद बताया कि जमीन कंपनी की नहीं है और न कोई प्लाटिंग है. आज तक रुपये भी नहीं लौटाया.