AGRA: नगर निगम के अतिक्रमण अभियान के दौरान बुधवार को विवाद की वजह भी बना. श्रीराम पूड़ी वाले की दुकान के छज्जे तोड़ने से गुस्साए दुकान स्वामी के बेटों को सिटी मजिस्ट्रेट ने उन्हें पुलिस की हिरासत में पहुंचा दिया और अभियान जारी रखा.

दो सौ से ज्यादा हटाए अतिक्रमण

नगर निगम के सहायक अभियंता सूरजपाल वाष्र्णेय ने बताया कि अभियान की शुरूआत छीपीटोला से की और बिजलीघर तक चला. इस दौरान करीब दो सौ से अधिक रैंप और फुटपाथों से अतिक्रमण हटवाए गए. उन्होंने बताया कि कहीं पर कोई दिक्कत नहीं आई, लेकिन अभियान जैसे ही श्रीराम पूड़ी वाले के यहां पर पहुंचा तो कार्रवाई वे नाराज हो गए. चबूतरा और छज्जा तोड़ा तो वे नाराज हो गए. गुस्साए श्रीराम पूड़ी वालों ने नमकीन, मिष्ठान फेंकना शुरू कर दिया. कूड़ा भी फेंक दिया. हंगामा कर वह कार्रवाई को रुकवाना चाहते थे, लेकिन सिटी मजिस्ट्रेट ऐसा एस. चौहान ने उन्हें गिरफ्तार करा दिया और कार्रवाई को जारी रखा.

15 दुकानों को दिया मौका

नगर निगम के सहायक अभियंता सूरजपाल वाष्र्णेय ने बताया कि ऐसी 15 दुकानों को अतिक्रमण हटाए जाने का मौका दिया हैं, जिनके शटर नाले पर बने हुए हैं. उन्हें निर्देशित किया गया है कि समय सीमा के अंदर ही अतिक्रमण हटा दिया जाए अन्यथा की स्थिति में दुकानों को ध्वस्त कर दिया जाएगा.