RANCHI : कांटा टोली चौक पर प्रस्तावित फ्लाइओवर निर्माण के विरोध में सोमवार को दिन भर दुकानें बंद रहीं. कांटा टोली रैयत व व्यवसायी एकता संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान काला झंडा दिखाया गया. साथ ही किसी सूरत में फ्लाइओवर नहीं बनने देने की हुंकार भरी.

विकास के नाम पर छलावा

समिति के उपाध्यक्ष एसएम कैसर ने बताया कि हमलोग विकास के खिलाफ नहीं है. सरकार कांटा टोली चौक पर जाम से निजात दिलाने के नाम पर फ्लाई ओवर का निर्माण कराने जा रही है. सवाल यह है कि क्या सही मायने में यह फ्लाई ओवर होगा या फिर महज एक ओवर ब्रिज. सरकार बहू बाजार की ओर से कोकर की तरफ जाने वाले करीब क्भ् परसेंट वाहनों के लिए फ्लाई ओवर बनाने जा रही है, लेकिन बाकी 8भ् परसेंट वाहनों का क्या. रैयतों व व्यवसायियों ने बताया कि कांटा टोली चौराहे पर वाहनों की आवाजाही मुख्य रूप से नामकुम रोड, डंगरा टोली रोड, बहू बाजार रोड और कोकर रोड की ओर से होती है. इसमें नामकुम और डंगरा टोली की ओर से करीब 8भ् परसेंट वाहनों की आवाजाही होती है और बहू बाजार से कोकर की ओर सिर्फ क्भ् परसेंट वाहन चलते हैं.

सीएनटी एक्ट का उल्लंघन

समिति ने कहा कि सरकार अगर कांटा टोली पर फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य करा रही है, तो उसे जमीन अधिग्रहण के मामले में सीएनटी एक्ट के नियमों का पालन करना चाहिए. सरकार आम आदमी के लिए सीएनटी एक्ट के प्रावधानों के तहत जमीन की रजिस्ट्री आदि पर तो रोक लगा रखी है, लेकिन फ्लाई ओवर के निर्माण में इसका खुद उल्लंघन कर रही है.