-कांग्रेस का आरोप, बस्ती वालों को अध्यादेश के बहाने किया जा रहा गुमराह

देहरादून, मलिन बस्तियों पर सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेश का कांग्रेस ने विरोध शुरू कर दिया है. कांग्रेस का कहना है कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार 2016 में राज्य की मलिन बस्तियों के नियमितीकरण एवं मालिकाना हक के लिए कानून बनाया गया था. अब सरकार जो अध्यादेश लाई है, वह सिर्फ लोगों को गुमराह करने के लिए है.

जूलूस भी निकाला

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह केनेतृत्व में कांग्रेस ने एस्लेहॉल चौक पर सरकार का पुतला दहन किया. बारिश के बीच कांग्रेस कार्यालय से लेकर एस्लेहॉल तक जुलूस भी निकाला गया. प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राज्य सरकार गरीब विरोधी है. भाजपा सरकार अध्यादेश का बहाना कर मलिन बस्तियों को गुमराह कर रही है.

पुनर्वास की व्यवस्था नहीं

प्रीतम सिंह ने कहा कि अध्यादेश में मलिन बस्तीवासियों को तीन साल तक कार्रवाई से छूट दी गई है, लेकिन उनके नियमितीकरण मालिकाना हक व पुनर्वास की कोई व्यवस्था करने का उल्लेख नहीं किया गया है. प्रदर्शन में पूर्व मंत्री दिनेश अग्रवाल, प्रमोद कुमार सिंह, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, गौरव चौधरी, हिमांशु बिजलवाण, अजय ंिसंह आदि मौजूद रहे.

आरके धवन का श्रद्धांजलि

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आरके धवन के निधन पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शोक जताया. प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने अपने शोक संदेश में कहा कि स्व. आरके धवन कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता थे. उन्होंने पार्टी संगठन में विभिन्न पदों पर रहते हुए पार्टी की सेवा के साथ ही क्षेत्र की निस्वार्थ सेवा की. इस मौके पर प्रदेश कार्यालय में एक शोक सभा का भी आयेाजन किया गया. दो मिनट का मौन रखकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उन्हें याद किया.