नगर निगम में भाजपा के बीच खींचतान

भाजपा के मेयर और पार्षद ही आपस में भिड़े

देहरादून, बीजेपी के भीतर सब कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है. जो स्थिति सामने आ रही है, उसे देखते हुए नगर निगम का आने वाले दिनों में होने वाला चुनाव बीजेपी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है. बीजेपी में खींचतान की शुरुआत बुधवार को उस समय हुई जब बीजेपी के कई पार्षद, मेयर विनोद चमोली के खिलाफ कांग्रेसी पार्षदों के साथ धरने पर बैठ गए.

परिसर में ही धरना किया शुरू

दरअसल हाउस टैक्स व कॉमर्शियल टैक्स को लेकर मेयर ने निगम में पार्षदों की मीटिंग रखी थी, जैसे ही पार्षद कमरे में पहुंचे और विकास कार्यों की बात करने लगे तो मेयर का गुस्सा सातवें आसमान चढ़ गया. इसके बाद पार्षद और मेयर में बोलचाल हो गई, इतना ही नहीं पार्षद कमरे से बाहर आकर निगम परिसर में ही धरने पर बैठ गए.

मेयर बोले, अपने हिसाब से चलूंगा

पार्षदों का आरोप है कि जब मेयर से वार्ड में लाइट की समस्या को लेकर शिकायत की गई तो मेयर ने उन्हें धमकाते हुए कहा कि जब तक वह मेयर की कुर्सी पर हैं, अपने हिसाब से चलेंगे. फिर चाहे पार्षद कुछ भी कर लें.

---------------

हाउस टैक्स को लेकर मीटिंग हुई है, दूसरी मीटिंग 23 अप्रैल को की जाएगी, बहस का जहां तक मुद्दा है. वह एलईडी लाइट्स को लेकर हुई. इसे लेकर पार्षद धरने पर बैठ गए.

- विनोद चमोली, मेयर