शिक्षा मित्रों को स्थाई नियुक्ति की मांग पर शिक्षा निदेशालय में पिछले आठ दिनों से अनशन पर बैठे शिक्षा मित्र क्रांतिकारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष पूर्ण सिंह राणा ने कहा कि पूर्व में डीएलएड प्रशिक्षितों की तरह वर्तमान 900 शिक्षा मित्रों को सहायक अध्यापक के पद पर नियुक्ति दी जाए. उन्होंने कहा कि पूर्व में सचिवालय कूच और 15 दिनों तक आमरण अनशन किया गया. 29 जून को शिक्षा महानिदेशक के आश्वासन के बाद आंदोलन स्थगित कर दिया गया. लेकिन, एक माह बाद भी इस दिशा में कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई. जिसके चलते प्रदेशभर के शिक्षा मित्र सरकार के खिलाफ आक्रोशित हैं. कहा कि आमरण अनशन के बाद भी उन्हें मजबूरन सचिवालय कूच करना पड़ रहा है. मांग पूरी होने के बाद ही आंदोलन को स्थगित किया जाएगा. इस दौरान बालादत्त शर्मा, सर्वानंद, चित्रा राणा, भगवान सिंह गुसाईं, महावीर रावत, कुसुम, सीमा, विजयलक्ष्मी, उषा, संजय, हिना राणा, त्रिलोक, मंसूरी अली, प्रभा आदि मौजूद रहे.