-निराला आर्ट गैलरी में चल रही छायाचित्र प्रदर्शनी का समापन

<-निराला आर्ट गैलरी में चल रही छायाचित्र प्रदर्शनी का समापन

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: निराला आर्ट गैलरी इलाहाबाद विश्वविद्यालय में सामाजिक एवं धार्मिक बिम्ब विषय पर पहल संस्था की ओर से आयोजित छाया चित्र प्रदर्शनी का शुक्रवार को समापन हो गया. इस मौके पर समापन समारोह की शुरुआत डीआईओएस आरएन विश्वकर्मा, अपर सचिव प्रशासन शिवलाल, डायट के पूर्व प्राचार्य राजेन्द्र प्रसाद, डॉ. विनीता विश्वकर्मा ने किया.

इस मौके पर प्रदर्शनी में छायाचित्र को देखने के बाद डीआईओएस आर एन विश्वकर्मा ने कहा कि पहल संस्था की यह सफल और सार्थक प्रयास है. ऐसी प्रदर्शनी आम लोगों के लिए ज्ञानवर्धक है. प्रदर्शनी का समापन करते हुए किन्नर अखाड़ा के महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने कहा कि प्रयाग की धरती को देव मुनियों और ऋषियों की धरती है. वर्तमान परिवेश में समाज को माताओं और बहनों के प्रति अपना दृष्टिकोण बदलने की आवश्यकता है. हर मनुष्य यदि अपने आप से प्रेम करने लगे तो मानव जीवन सार्थक हो जाएगा और आपसी सौहार्द बढ़ेगा.

राष्ट्र निर्माण में रही महती भूमिका

पहल एक नई शुरुआत, जन कल्याण समिति एवं संस्थान की अध्यक्ष डॉ वंदना सिंह ने आए हुए अतिथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि संस्था द्वारा यह प्रयास किया गया. प्रदर्शनी के माध्यम से प्रयाग में होने वाले कुंभ से लोगों को जोड़ा जाय और उसके सफल आयोजन में हम सभी अपना योगदान दें. महामंडलेश्वर भवानी मां ने धर्म और आस्था की नगरी प्रयाग के महात्म्य का वर्णन किया. कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पूर्व आयुक्त कृष्ण चंद्रा ने कहा कि किन्नर समाज ने राष्ट्र निर्माण में प्राचीन काल से ही अपनी महती भूमिका निभाई है. इस अवसर पर ओम नम: शिवाय के शांतनु जी महाराज ने कार्यक्रम की तारीफ की. कार्यक्रम में संत प्रांजल, डॉ. राधा सत्यम, डॉ. दीपा द्विवेदी, डॉ. रविन्द्र प्रताप, राम औतार गुप्ता, इन्द्र देव पाण्डेय, श्याम सुंदर सिंह पटेल, अभिषेक सिंह आदि मौजूद रहे. छाया चित्र प्रदर्शन में लगे चित्र का संकलन अनुराग शुक्ल, अतुल खन्ना ने किया.