-कैबिनेट मंत्री ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का किया हवाई सर्वेक्षण

-अधिकारियों को बाढ़ में फंसे लोगों को 15 दिन के लिए राहत सामग्री मुहैया कराने का दिया निर्देश

varanasi@inext.co.in

VARANASI

पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर शिवपाल यादव ने कहा कि बाढ़ पीडि़तों की मदद के लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह कटिबद्ध है. दैवीय आपदा की इस घड़ी में सरकार उनके साथ है. उन्होंने अधिकारियों से कहा कि बाढ़ में फंसे लोगों को एक दिन का नहीं बल्कि क्भ् दिन के लिए एक साथ राहत सामग्री मुहैया करायें. कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने शनिवार को बनारस व चंदौली जिले के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद विकास भवन सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर ये निर्देश दिये.

लोगों की जिंदगी प्राथमिकता

बाद में मीडिया से बातचीत में कैबिनेट मंत्री ने कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता लोगों की जिंदगी है. इसके लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है. केंद्र से भी मदद की मांग की गयी है. बाढ़ से हुए नुकसान पर कहां कि आकलन किया जा रहा है. बाढ़ के बाद सही स्थिति का पता लग सकेगा. जिलों को आश्वस्त किया कि उनकी ओर से जो भी धनराशि की डिमांड की जाएगी वह देर शाम तक जारी कर दी जाएगी.

लेखपालों पर हुए सख्त

लेखपालों के जारी आंदोलन पर डीएम को निर्देश दिया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में तैनाती के बाद भी यदि कोई लेखपाल कार्य न करे तो उसका बस्ता जमा कराकर कानूनगो व नायब तहसीलदार को उसका चार्ज सौंप दें और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें.

बनारस में ढाई लाख लोग प्रभावित

डीएम विजय किरन आनंद ने बताया कि बाढ़ से बनारस में तीन विकास खंडों के क्7म् ग्राम सभा के ख्,भ्0,000 आबादी और 70 हजार हेक्टेयर कृषि भूमि प्रभावित हुई है. ख्00 नावों व एनडीआरएफ की सात टीमों को राहत कार्य में लगाया गया है. इसके अलावा शहरी क्षेत्र में ख्म् व रूरल में डॉक्टर्स की ब्0 टीमें कार्य कर रही हैं.