पुरुष क्रिकेट मैच में अंपायर बनीं शिवानी
कानपुर। क्रिकेट में हमेशा से पुरुषों का वर्चस्‍व रहा है। पुरुषों का क्रिकेट मैच देखने के लिए जहां स्‍टेडियम खचाखच भरे रहते हैं वहीं महिलाओं के खेल को देखने नाम मात्र के दर्शक आते हैं। इन सब के बीच कुछ महिलाएं ऐसी होती हैं जो हक से पुरुषों के खेल में इंट्री करती हैं, क्रिकेटर ही न सही अंपायर बनकर ये इतिहास रच देती हैं। कतर की रहने वाल शिवानी मिश्रा उन्‍हीं में से एक हैं। हाल ही में आयोजित हुए आईसीसी वर्ल्‍ड टी-20 पुरुष क्‍वालीफाइंग टूर्नामेंट में शिवानी को अंपायरिंग करने का अवसर मिला। उन्‍होंने पुरुषों की इस प्रतियोगिता में 4 मैचों में अंपायरिंग की, इसमें एक मैच में वो फील्‍ड अंपायर रही तो तीन मैचों में शिवानी ने थर्ड अंपायर की भूमिका निभाई।
पुरुषों के क्रिकेट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली एशियाई महिला बनीं शिवानी
शिवानी से पहले ये विदेशी कर चुकी हैं अंपायरिंग
आपको बता दें, शिवानी एशिया की पहली महिला हैं जिन्‍हें पुरुषों के क्रिकेट मैच में अंपायरिंग करने का मौका मिला। उनसे पहले जिन महिलाओं ने अंपायरिंग की है वो सभी विदेशी हैं। न्‍यूजीलैंड की कैथी क्रॉस, ऑस्‍ट्रेलिया की क्‍लेयर पोलोसा और वेस्‍टइंडीज की जैक्‍लीन विलियम्‍स यह कारनामा कर चुकी हैं। कतर ट्रिब्‍यून की खबर के मुताबिक, शिवानी को इस मुकाम तक पहुंचने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा। उन्‍होंने कोचिंग से लेकर अंपायरिंग और मैच रेफरी तक का कोर्स और प्रशिक्षण लिया है ताकि मैदान पर सही निर्णय दे सकें। शिवानी ने कतर क्रिकेट एसोशिएशन और सपोर्टिंग स्‍टॉफ को धन्‍यवाद दिया है। यही नहीं शिवानी का यह भी कहना है कि अगर उन्‍हें परिवार से सपोर्ट न मिला होता तो उनका सपना कभी पूरा नहीं होता।
पुरुषों के क्रिकेट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली एशियाई महिला बनीं शिवानी
आसान नहीं था ये सफर
न्‍यूज वेबसाइट कतर ट्रिब्‍यून की मानें तो, शिवानी कतर के एक स्‍कूल में शारीरिक शिक्षा की टीचर रही हैं। शिवानी को खेल से बहुत लगाव है। भारत के दिग्‍गज बल्‍लेबाज सुनील गावस्‍कर की फैन शिवानी बचपन में क्रिकेटर बनना चाहती थीं। मगर एक ट्रेडिशनल फैमिली से ताल्‍लुक रखने के चलते वह अपना सपना पूरा नहीं कर सकीं। हालांकि शादी के बाद उनके पति ने बहुत सपोर्ट किया। शिवानी क्रिकेटिंग असाइनमेंट पूरा करती थीं तो उनके पति घर पर दो बेटियों को संभालते थे। पहले मैच में अंपायरिंग का अनुभव शेयर करते हुए शिवानी ने बताया, 'मुझे आईसीसी वर्ल्‍ड टी-20 एशिया सब रीजनल क्‍वॉलीफॉयर ए के उद्घाटन मैच में अंपायर बनाया गया। पहला मैच मेजबान कुवैत और मालदीव के बीच खेला गया। भारी संख्‍या में दर्शक अपनी होम टीम को सपोर्ट करने आए थे। यह एक अच्‍छा अनुभव था। मैं चाहूंगी कि दोबारा ऐसा मौका मिले।' फिलहाल शिवानी कतर महिला क्रिकेट टीम की कोच हैं।
पुरुषों के क्रिकेट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली एशियाई महिला बनीं शिवानी

Cricket News inextlive from Cricket News Desk