- दो साल लगे प्रोजेक्ट का 60 परसेंट काम करने में कंपनी को वक्त

- 30 नवंबर तक काम पूरा करने का है निगम पर दबाव

- कई बार बढ़ाई गई है प्रोजेक्ट की डेडलाइन

DEHRADUN: शीशमबाड़ा सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट को फ्0 नवंबर तक पूरा करना किसी चुनौती से कम नहीं है. यह इसलिए क्योंकि दो साल में कार्यदायी कंपनी प्लांट का केवल म्0 परसेंट काम ही पूरा कर पाया है. अब करीब ब्8 दिन में कंपनी को बाकी का ब्0 परसेंट काम निपटाना है. ये कैसे संभव होगा, इस पर सवाल खड़े हो रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार प्रोजेक्ट को हर हाल में फ्0 नवंबर तक पूरा किया जाना है.

अब तक क्8 करोड़ खर्च

सेलाकुई में करीब क्00 बीघा जमीन में बन रहे शीशमबाड़ा सॉलिट वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट पर अब तक क्8 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं. पूरे प्रोजेक्ट की प्रस्तावित लागत ब्ख् करोड़ रुपए है. नगर निगम द्वारा प्रोजेक्ट के लिए ख्ख् करोड़ रुपए दिए जाने हैं, जबकि बाकी खर्चा कार्यदायी संस्था रैमकी कंपनी द्वारा वहन किया जाना है.

कोर्ट ने दी है आखिरी डेडलाइन

शीशमबाड़ा सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट की फाइनल रिपोर्ट नगर निगम द्वारा भ् दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट को सौंपी जानी है. नगर निगम द्वारा रैमकी कंपनी को हर हाल में फ्0 नवंबर तक प्रोजेक्ट का काम पूरा करने की डेडलाइन दी है. प्रोजेक्ट लगातार लेट-लतीफी की भेंट चढ़ता रहा है, इसलिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा नगर निगम को अब आखिरी डेडलाइन दी गई है, नगर निगम ने कंपनी को सख्त निर्देश दिए हैं कि हर हाल में फ्0 नवंबर तक प्रोजेक्ट पूरा कर ि1लया जाए.

कंपनी के हैं अपने बहाने

सुस्त गति से चल रहे निर्माण कार्य को लेकर जब कंपनी को पूछा गया, तो कंपनी का आरोप है कि नगर निगम द्वारा प्रोजेक्ट की डीपीआर और मैप दोबारा चेंज कराया गया. इसके चलते निर्माण कार्य में देरी हुई है. हालांकि, कंपनी का दावा है कि तय डेडलाइन तक प्रोजेक्ट पूरा कर लिया जाएगा.

------------------

कंपनी ने म्0 परसेंट काम पूरा कर लिया है. बाकी ब्0 परसेंट काम तय समय के भीतर पूरा कर लिया जाएगा. प्रोजेक्ट की डीपीआर और मैप रिवाइज होने के कारण प्रोजेक्ट में देरी हुई है.

मोहित द्विवेदी, हेड इंचार्ज, रैमकी.

-------------------

कंपनी को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि हर हाल में तय समय के भीतर काम पूरा करा लिया जाए. कंपनी ने भी दावा किया है कि निर्धारित समय पर काम पूरा कर लिया जाएगा.

विनोद चमोली, मेयर, नगर निगम.

---------

- म्0 परसेंट काम हुआ दो साल में

- ब्0 परसेंट बाकी काम करना है ब्भ् दिनों में

-क्8 करोड़ रुपए खर्च हो चुकें हैं प्रोजेक्ट पर

- ब्ख् करोड़ रुपए का है पूरा प्रोजेक्ट

- क्00 बीघा जमीन पर बन रहा है प्लांट

- फ्0 नवंबर तक दी गई है आखिरी डेडलाइन

- भ् दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट में पेश करनी है रिपोर्ट