सोशल मीडिया पर नरेश अग्रवाल की चर्चा
भाजपा में जाते ही नरेश अग्रवाल के इस बयान ने सोशल मीडिया पर उन्हें सुर्खियों में ला दिया। ट्विटर से लेकर फेसबुक तक नेताओं से लेकर आम जनता ने उन्हें खूब खरी-खोटी भी सुनाई। सोशल मीडिया पर हिंदू देवी-देवताओं को लेकर संसद में नरेश द्वारा की गयी टिप्पणी भी तेजी से वायरल की जाने लगी। इसकी शुरुआत केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा किए गये ट्वीट से हुई। वहीं भाजपा के वरिष्ठ नेता उनके बयान के बाद मीडिया से दूरी बनाते नजर आने लगे। यह कयास भी लगने लगे कि पार्टी उनके खिलाफ कोई कार्रवाई भी कर सकती है।

गलती मानकर देश से माफी मांगनी चाहिए

वहीं मंगलवार सुबह सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने नरेश अग्रवाल के बयान पर ट्वीट कर अपनी आपत्ति दर्ज कराते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर डाली। इसके बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी बयान जारी कर भाजपा पर तंज कसा कि सपा से बीजेपी में शान-बान व काफी आवभगत के साथ शामिल हुए नरेश अग्रवाल की अभद्र टिप्पणी घोर महिला विरोधी है। इसके लिए उन्हें तुरंत अपनी गलती मानकर देश से माफी मांगनी चाहिए।

महिला विरोधी टिप्पणी देश को शर्मिंदा करने वाली
बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के साथ प्रेस कांफ्रेंस में ऐसी महिला विरोधी टिप्पणी महिला जगत व देश को शर्मिंदा करने वाली है। बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व को इसे गंभीरता से जरूर नोट लेना चाहिए। वैसे पिछले अनुभवों के आधार पर यह लगता है कि बीजेपी नेतृत्व ऐसी महिला विरोधी मानसिकता रखने वालों के प्रति उतना गंभीर नही है जितना कि उसे जनता की निगाहों में होना चाहिए। जया बच्चन एक सम्मानित नाम है और वे एक सम्मानित परिवार का प्रतिनिधित्व करती हैं। फिल्म जगत में उनके परिवार का भारी योगदान है और वे एक सांसद भी हैं। उनके विरुद्ध नरेश अग्रवाल की विवादित व महिला विरोधी टिप्पणी अति निंदनीय है। बसपा कड़े शब्दों में इसकी भत्सर्ना करती है। बीजेपी देश की सत्ताधारी पार्टी है। ऐसे असंसदीय व अपमानजनक टिप्पणी को वह किस रूप में लेती है, यह देश देख रहा है।
मायावती बसपा सुप्रीमो

महिला आयोग को भी कार्रवाई करनी चाहिए
जया बच्चन पर की गयी अभद्र टिप्पणी के लिए हम भाजपा के नरेश अग्रवाल के बयान की कड़ी निंदा करते है। ये फिल्म जगत के साथ ही भारत की हर महिला का भी अपमान है। भाजपा अगर सच में नारी का सम्मान करती है तो तत्काल उनके खिलाफ कदम उठाए। महिला आयोग को भी कार्रवाई करनी चाहिए।
अखिलेश यादव द्वारा किया गया ट्वीट

इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
इस कद के नेता को जया बच्चन के बारे में इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। मुझे यह लगता है कि ऐसा उन्होंने गुस्से में किया। हालांकि वह दूरदर्शी व्यक्ति हैं। वह अपने क्षेत्र में लड़कियों की शिक्षा के लिए भी काम कर रहे हैं।
अपर्णा यादव, मुलायम सिंह यादव की छोटी पुत्रवधू

National News inextlive from India News Desk