नर्इ दिल्ली (पीटीआर्इ )। कांग्रेस नेता आरके धवन ने कल शाम करीब 7 बजे अस्पताल में अंतिम सांस ली। वह काफी दिनों से कैंसर से पीड़ित थे। बीती 31 जुलाई को उनको नींद, यूरिन आैर कमजोरी की वजह से भर्ती कराया गया था। यहां पर उपचार के दौरान उन्हें 2 अगस्त को आईसीयू में स्थानांतरित कर दिया गया था।

श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया आैर शोक जताया
कांग्रेस नेता के निधन की खबर सुनते ही राजनीति गलियारों के साथ ही उनके समर्थकों में कोहराम मच गया।पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी उनके निधन पर दुख व्यक्ति किया। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने धवन को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया आैर शोक जताया।

कांग्रेस में इनकी स्थिति थोड़ी गड़बड़ हो गर्इ थी

आरके धवन कभी देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के निजी सचिव रहे भी रहे हैं। इंदिरा गांधी इन पर काफी भरोसा करती थीं। आपातकाल के दौरान (1975-77) के दौरान भी वह इंदिरा के कुछ चुनिंदा विश्वासपात्रों में शामिल थे। इंदिरा गांधी की मृत्यु के बाद कुछ दिनों के लिए कांग्रेस में इनकी स्थिति थोड़ी गड़बड़ हो गर्इ थी ।

74 साल की उम्र में किया था अचला से विवाह
हालांकि एक बार साल वर्ष 1990 में आरके धवन ने शानदार तरीके से वापसी की और राज्यसभा के लिए चुने गए।आरके धवन अपने राजनीति जीवन के अलावा निजी जिंदगी को लेकर काफी चर्चा में रहे हैं। यह साल 2011 में अपने विवाह को लेकर सुर्खियों में रहे। इन्होंने 74 साल की उम्र में शादी की थी। पत्नी अचला अभी जीवित हैं।

खुलासा: आपातकाल लगाने की जगह इस्‍तीफा देना चाहती थीं इंदिरा गांधी

National News inextlive from India News Desk