-बुधवार को हुई बारिश के बाद निगम ने बदला अपना प्लान

-माना पैक किए गए नालों की वजह से हुआ जलभराव, अब कराए जा रहे पंक्चर

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: बुधवार को चंद घंटों की बारिश के बाद हुए भीषण जलभराव से नगर निगम सबक लेने जा रहा है. नगर आयुक्त का मानना है कि बारिश से पहले नालों को पैक किए जाने से यह समस्या पैदा हुई. पानी पूरे दम से निकल नहीं पाया और बैक फ्लो हो गया. इसकी वजह से जहां तहां वाटर लॉगिंग हो गई. अब निगम इन नालों को जलभराव की पुनरावृत्ति से बचने के लिए पंक्चर करने में जुट गया है.

निरंजन पुल का होगा परमानेंट इलाज

शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत में नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने कहा कि निरंजन पुल के नीचे काफी पुरानी जलभराव की समस्या से निपटने का रास्ता तलाश लिया गया है. उन्होंने कहा कि निरंजन के पास रेलवे से बात कर सम्पवेल बनाया जाएगा. ऐसा करने से एक जगह आसपास के इलाकों का पानी एकत्र हो जाएगा और फिर इसे पंप से बाहर कर दिया जाएगा. इससे निरंजन के पास जलभराव की समस्या का स्थाई समाधान हो जाएगा.बारिश से पहले नालों को पैक किए जाने से वॉटरलॉगिंग की समस्या पैदा हुई. पानी पूरे दम से निकल नहीं पाया और बैक फ्लो हो गया.

-अविनाश सिंह,

नगर आयुक्त

निगम द्वारा लिए गए निर्णय

10 नए सफाई निरीक्षकों को क्रिटिकल एरिया में तैनात किया जाएगा.

15 दिन का एडवांस दे दिया गया है. सभी जोन को जलभराव से निपटने के लिए गाड़ी, जनरेटर, पंप सहित.

46 लाख का प्रस्ताव भेजा गया है शासन के पास. शिवकुटी स्थित महावीरपुरी में बनेगा पक्का नाला.

02 बच्चों की सलोरी में मौत को गंभीरता से लेते हुए नाले की चौड़ाई और ऊंचाई को बढ़ाया जाएगा.

356 शहर में कुल नालों की संख्या

42 बड़े नाले

141 मंझले नाले

173 छोटे नाले