-रेलवे ने ढहाया अवैध निर्माण, चौराहे की बदली सूरत

-एनईआर के स्टेडियम में दुकानदारों ने किया था कब्जा

GORAKHPUR:

रेलवे स्टेडियम के पीछे मोहद्दीपुर चौराहे पर अतिक्रमण कर दुकानदारों ने सूरत बिगाड़ दी थी. एग्रीमेंट से ज्यादा भूमि पर कब्जा जमाकर दुकान, कोचिंग सेंटर चलाने वालों के अतिक्रमण पर रेलवे अधिकारियों की मौजूदगी में बुलडोजर चला. नगर निगम, रेलवे सुरक्षा और पुलिस बल की मौजूदगी में रेलवे अधिकारियों ने अवैध निर्माण को ढहा दिया. रेलवे अधिकारियों ने कहा कि शहर में एनईआर की भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों का अतिक्रमण ढहा दिया जाएगा. सीपीआरओ ने बताया कि रेल प्रापर्टी पर अवैध करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

अतिक्रमण पर चला रेलवे का बुलडोजर

सैयद मोदी रेलवे स्टेडियम के पीछे का हिस्सा मोहद्दीपुर चौराहे से करीब है. कई साल पूर्व इस भूमि पर रेलवे ने दुकान खोलने की अनुमति दी थी. स्टेडियम से सटे भूमि पर दुकान बनाने वाले कोचिंग संचालक, रेस्टोरेंट मालिक ने निर्धारित भूमि से ज्यादा जगह पर अतिक्रमण कर लिया. साथ ही पूर्व में आंवटित भूमि के लिए निर्धारित शुल्क जमा कराने में लापरवाही बरती. रेलवे अधिकारियों ने बताया कि नौ दुकानों का एलाटमेंट कराया गया था. इसमें दुकान नंबर 21 के एपी शर्मा और 20 नंबर दुकान कृष्णा शर्मा के नाम से अलाट है. रेलवे अधिकारियों ने बताया कि जितनी जगह का एलाटमेंट किया गया था. उससे ज्यादा जगह पर अतिक्रमण कर दुकानदारों ने निर्माण कार्य करा लिया. पूर्व में अलाट भूमि का बकाया भी नहीं जमा करा रहे थे. इस वजह से नियमानुसार अतिक्रमण को तोड़ने का आदेश मिला था. इसके पूर्व दुकानदारों को नोटिस देकर सूचित किया गया था.

चौराहा हुआ साफ, जाम से िमलेगी निजात

रेलवे की भूमि पर कब्जा हटने से मोहद्दीपुर चौराहा चौड़ा नजर आने लगा है. रेलवे के नाले से आगे करीब 15 मिनट तक सड़क से सटे दुकानदारों ने अतिक्रमण कर लिया था. मंगलवार को जब रेलवे और नगर निगम के लोगों ने अतिक्रमण हटाया तो चौराहा साफ नजर आने लगा. कोचिंग संचालक और रेस्टारेंट की भूमि खाली होने से मोड़ पर साफ हो गया है. इससे मोहद्दीपुर चार फाटक की ओर से आने वाले वाहन साफ-साफ नजर आने लगे हैं. अतिक्रमण की वजह से चौराहे पर एक्सीडेंट का खतरा बना रहता था. अतिक्रमण हटाने गई टीम में रेलवे के सहायक नगर इंजीनियर एके पांडेय, सीनियर सेक्शन इंजीनियर आरपी सिंह, केके मिश्र, आलोक कुमार, एके त्रिपाठी, एजाज अहमद सहित रेलवे, नगर निगम, आरपीएफ और पुलिस कर्मचारी मौजूद रहे.

यह हाेगा फायदा

- मेन रोड से सटे नाली में वाटर लांिगग नहीं होगी.

- भूमि खाली होने से वाहनों के मुड़ने के लिए जगह मिलेगी.

- सड़क किनारे अतिक्रमण हटने से चौराहे पर चहुंओर नजर रहेगी.

- रात में चार फाटक से पैडलेगंज आवागमन करने वाले वाहन साफ-साफ नजर आएंगे.

- भारी वाहनों के मुड़ने के लिए पर्याप्त जगह मिल सकेगी. एक्सीडेंट का खतरा टलेगा.

रेलवे की भूमि पर अवैध कब्जा हटाया जा रहा है. रेलवे की भूमि पर सभी अतिक्रमण चिह्नित किए गए हैं. प्रक्रिया के तहत सभी को बारी-बारी से हटवा दिया जाएगा. मोहद्दीपुर में अतिक्रमण हटाने के लिए टीम पहुंची थी.

संजय यादव, सीपीआरओ, एनईआर