- मुगलसराय जंक्शन का नाम बदल कर कर दिया गया है पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन

bareilly@inext.co.in

BAREILLY : भाजपा पं दीन दयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष मना रही है. इसी के तहत राज्य सरकार की पहल पर मुगलसराय जंक्शन का नाम बदल कर पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन कर दिया गया हो, लेकिन रेलवे की नजर में वह आज भी मुगलसराय जंक्शन ही है. नाम परिवर्तन के 13 दिन बाद भी रेलवे ने अपने सॉफ्टवेयर को अपडेट ही नहीं किया है. लिहाजा, पंडित दीन दयाल उपाध्याय (डीडीयू) की जगह मुगलसराय जंक्शन (एमजीएस) का ही कोड ऑनलाइन टिकट की बुकिंग पर शो कर रहा है. कोड और नाम में बदलाव नहीं होने से ऑनलाइन टिकट बुकिंग कराने वालों को काफी प्रॉब्लम हो रही है.

ऑनलाइन टिकट बुकिंग पर दिक्कत

बरेली जंक्शन से चलकर या होकर डीडीयू जंक्शन तक एक दर्जन से अधिक ट्रेनें चलती है. इनमें बरेली मुगलसराय एक्सप्रेस, दून एक्सप्रेस, जम्मूतवी हावड़ा, अर्चना सुपरफास्ट, हिमगिरी एक्सप्रेस, जलियांवाला बाग एक्सप्रेस, दिल्ली सियालदह एक्सप्रेस समेत अन्य ट्रेनें जाती हैं. इन ट्रेनों से डीडीयू जाने वाले यात्रियों की संख्या अच्छी-खासी होती है. भीड़ और लाइन से बचने के लिए ज्यादातर लोग ऑनलाइन ही टिकट की बुकिंग कराते हैं, लेकिन रेलवे की लापरवाही के कारण लोगों को बेवजह परेशान होना पड़ता है.

5 जून को बदल दिया था नाम

ऑनलाइन टिकट बुकिंग के लिए जब लोग पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन का कोड कम्प्यूटर में फीड करते हैं, तो जंक्शन का नाम शो ही नहीं करता है. लिहाजा, लोग काउंटर पर आकर टिकट की बुकिंग कराते हैं. बता दें कि शासन की पहल के बाद 5 जून को मुगलसराय जंक्शन का नाम बदल दिया गया था.

सिर्फ नाम बदलने से नहीं काम भी होना चाहिए. रेलवे ने अपना सॉफ्टवेयर अपडेट ही नहीं किया है. नए नाम से कोड सर्च करने पर जंक्शन का नाम आता ही नहीं है. जिसकी वजह से बेवजह परेशानी होती है.

धनंजय सिंह

पिछले दिनों मैं दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन के लिए ऑनलाइन टिकट ले रहा था, लेकिन कोड मुगलसराय जंक्शन ही शो कर रहा था, जिससे कन्फ्यूजन हो गया. कन्फर्म करने के बाद मुगलसराय कोड से टिकट लिया.

संदीप कुमार