- रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के शुरू की एक नई सुविधा

- ट्रांजेक्शन होने के बाद टिकट नहीं बुक होने की समस्या से मिलेगी राहत

BAREILLY:

रेलवे के टिकट काउंटर पर डिजिटल पेमेंट में रुपया फंसने की समस्या जल्द ही बीते दिनों की बात होगी. अब बेफिक्र होकर काउंटर पर रुपे कार्ड स्वाइप कर टिकट बनवा सकते हैं. आए दिन रुपया कट जाने की झंझट से यात्रियों को निजात दिलाने के लिए रेलवे ने ओटीपी सिस्टम ईजाद किया है. ओटीपी फीड होने के बाद ही अकाउंट से रुपया कटेगा. मतलब कि टिकट बनने की पूरी गारंटी होगी.

जनरल-आरक्षण काउंटर दोनों पर

कार्ड स्वाइप के जरिए टिकट खरीदने की व्यवस्था जनरल व आरक्षण काउंटर पर उपलब्ध होगी. अभी टिकट खरीदते वक्त ज्यादातर लोग इस वजह से स्वाइप से बचते थे कि अक्सर अकाउंट से पैसा कट जाता है और टिकट कैश नहीं हो पाता है. ऐसे में, उन यात्रियों के लिए बड़ी समस्या हो जाती है, जिनके अकाउंट में गिनती भर ही रुपए हों. यही वजह है कि काउंटर पर रोज यात्रियों और टिकट बाबुओं से झिकझिक होती है.

कैसे करेगा काम

यात्री को टिकट काउंटर पर जाकर अपना रुपे कार्ड मशीन में स्वाइप करना होगा. एटीएम का पिन स्वाइप मशीन में एंटर करने के बाद यात्री के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर संबंधित बैंक से एक ओटीपी आएगा, जिसे यात्री को काउंटर पर बताना होगा. जैसे ही टिकट बाबू उस ओटीपी को अपने सिस्टम में अपडेट करेगा. यात्री के अकाउंट से पैसा कट जाएगा और टिकट बुक हो जाएगा.

दिवाली बाद एड होगा ओटीपी ऑप्शन

इस सुविधा के लिए अभी तक रेलवे के सिस्टम में ओटीपी का कोई भी ऑप्शन नहीं है. अब नई व्यवस्था के चलते सिस्टम को अब अपडेट किया जाएगा. जिसके बाद इसमें ओटीपी का ऑप्शन जोड़ दिया जाएगा.

सिर्फ रुपे कार्ड पर ही सुविधा

रेलवे की इस सुविधा का लाभ अभी केवल वही यात्री उठा सकेंगे जिनके पास रुपे कार्ड होगा. क्योंकि यह सुविधा अभी तक केवल रुपे कार्ड धारकों के लिए शुरू की गई है. बाकी कार्ड धारकों के लिए यह सुविधा जल्द ही लागू की जाएगी.

दिवाली के बाद यह सुविधा शुरू कर दी जाएगी. इसका लाभ अभी केवल रुपे कार्ड धारक ही उठा सकते हैं. जल्द ही यह सुविधा दूसरे कार्ड धारकों को भी शुरू की जाएगी.

राकेश, मुख्य वाणिज्य निरीक्षक