क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : सिटी में जल जमाव की समस्या हर बीतते हुए दिन के साथ बड़ी होती जा रही है. शनिवार को भी घंटे भर की बारिश ने शहर के बड़े इलाके को डुबो कर रख दिया. कई वीआईपी इलाके भी जल जमाव की चपेट में आ गए. नेपाल हाउस (पुराना सचिवालय) स्थित कई इलाकों में घुटनों तक पानी भर आया. नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के घर का एरिया डिप्टी पाड़ा में भी लोग जल जमाव से परेशान रहे. सिटी में जोरदार बारिश शाम साढ़े चार से साढ़े पांच बजे के बीच हुई. इसके बाद छिटपुट बारिश होती रही.

रातू से सर्कुलर रोड तक जाम

बारिश छूटने के बाद शाम छह बजे से लेकर रात के नौ बजे तक कई सड़कों पर जाम का नजारा देखा गया. सड़कों पर पानी भरे होने के कारण गाडि़यां धीमी गति से चल रही थीं, जिस कारण रातू रोड, कचहरी रोड, सर्कुलर रोड, ओल्ड एचबी रोड, पुरुलिया रोड, मेन रोड, चर्च रोड, कर्बला चौक और हरमू रोड जाम रहा. स्टेशन रोड में भी डीजल ऑटो की लाइन लगी रही. काफी मशक्कत के बाद देर रात जाम से मुक्ति मिली.

कई घरों में घुसा पानी

बारिश के कारण मुख्य सड़कों के अलावा कई निचले इलाकों में स्थित घरों में भी पानी घुस गया. देर रात तक लोग घरों से पानी निकालने में ही व्यस्त रहे. इधर, करोड़ों खर्च कर जलजमाव से बचने के लिए बनाए गये नालों से भी पानी उबल कर बाहर आने लगा. इससे सड़कों पर दो-दो फीट तक पानी जमा हो गया.

बिजली ने भी रुलाया

बारिश शुरू होते ही शहर के बड़े हिस्से में बिजली काट दी गयी. लालपुर से लेकर नामकुम एरिया तक में काफी देर तक बिजली कटी रही, जिससे लोग परेशान रहे. सबसे ज्यादा मुसीबत उन्हें झेलनी पड़ी, जिनके घरों में पानी घुस गया था. अंधेरे में ही वे घरों से बाल्टी के सहारे पानी निकालते देखे गए.