- शुक्रवार रात ओर शनिवार सुबह हुई बारिश के बाद मौसम हुआ खुशगवार

- लो वोल्टेज और बिजली कटौती से भी मिली निजात

-जलभराव की समस्या से लोगों के सामने खड़ा हुआ संकट

Meerut : उमस भरी भीषण गर्मी के बाद बीती रात से रुक-रुककर हो रही झमाझम बारिश से मौसम के मिजाज बदल गए. मौसम खुशगवार हुआ और लोगों ने गर्मी से राहत महसूस की. कई जगह मलिन बस्तियों में पानी की निकासी न होने से जलभराव की उत्पन्न हो गई और लोगों को आवागमन में भारी परेशानी का सामना करना पड़ा. सूखे की मार झेल रहे किसानों के चेहरे खिल उठे.

रिकॉर्ड तोड़ गर्मी से राहत

इस बार भीषण गर्मी ने पिछला रिकार्ड भी तोड़ दिया था. दिन में चिलचिलाती धूप व उमस भरी गर्मी के कारण लोगों का जीना मुहाल हो गया था. शुक्रवार रात और शनिवार सुबह हुई झमाझम बारिश ने जहां धरती की प्यास बुझायी, वहीं मौसम खुशगवार हो गया और गर्मी से लोगों ने राहत महसूस की.

किसानों के चेहरों पर लौटी रौनक

भीषण गर्मी व सिचाई के अभाव में किसानों की फसलें सूखने लगी थी. सूखे की मार झेल रहे किसानों की फसल के लिए बारिश संजीवनी साबित हो रही है. वर्षा होने से किसानों के चेहरे खिल उठे.

पहली बारिश से ही जलभराव

दो दिन से रुक-रुक कर हुई बारिश ने ही नगर की मलिन बस्तियों के रास्तों में जलभराव की समस्या पैदा कर दी है, क्योंकि पानी की निकासी की कोई समुचित व्यवस्था नही है. रास्ते बदहाल होने से बस्ती के लोगों को आवागमन में दिक्कत हो रही है.

पटरी पर लौटी बिजली आपूर्ति

गर्मी के साथ इस बार बिजली के भी नखरे लोगों को झेलने पड़े. कभी विद्युत लाइनों में फाल्ट तो कभी कटौती के नाम पर बिजली गुल रही. कुछ मोहल्लों में लो वोल्टेज की समस्या से भी लोग परेशान रहते हैं. शुक्रवार व शनिवार को घंटों हुई के बाद लो वोल्टेज के साथ ही आपूíत में भी सुधार दिखाई दिया है. बिजली आपूíत ठीक होने से भी राहत मिली है.