-आशा रंजन ने की शहाबुद्दीन, लड्डन मियां व अन्य तीन की पहचान

MUZAFFARPUR/PATNA : पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में गुरुवार को उनकी पत्‍‌नी आशा रंजन ने एडीजे-11 मनोज कुमार के कोर्ट में गुरुवार को गवाही दर्ज की। सीबीआई के विशेष लोक अभियोजक अतुल कुमार ने उनकी गवाही कराई। बचाव पक्ष की ओर से कोर्ट के समक्ष उनका प्रतिपरीक्षण कराया गया। वे इस कांड की सूचक भी हैं। इस मामले में यह पहली गवाही है। उन्होंने दर्ज प्राथमिकी की पहचान की। उनके पति ने बताया था कि सिवान जेल में बंद पूर्व सांसद शहाबुद्दीन से राज्य सरकार के तत्कालीन मंत्री अब्दुल गफ्फार के मिलने की खबर छपने पर उन्हें धमकी मिली। उन्होंने हत्या की आशंका जताई थी। कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में स्क्रीन पर आ रहे आरोपित शहाबुद्दीन व अजहरूद्दीन उर्फ लड्डन मियां की पहचान की। इसके अलावा कोर्ट में पेश विजय कुमार, राजेश कुमार एवं सोनू कुमार सोनी को भी पहचाना। उनकी गवाही पूरी हो गई। कोर्ट ने अगली गवाही के लिए 16 अप्रैल की तारीख निर्धारित की है।