भारी संख्या में सुरक्षा बल
आज राजकोट के मैदान पर भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वन-डे अंतरराष्ट्रीय मैच होने वाला है। इसके लिए यहां पर दोनों देशों की टीमें तैयार हैं। लोगों में भी उत्‍साह देखने को मिल रहा है, लेकिन यहां पर पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल की धमकी के बाद थोड़ा हालात बदले हैं। सुरक्षा व्‍यवस्‍था को लेकर प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है। राजकोट स्टेडियम की किलेबंदी कर दी गई है और शहर में भारी संख्या में सुरक्षा बल की तैनाती की गई है। चप्‍पे चप्‍पे पर पुलिस कर्मी तैनात है। यहां पर आइबी लगाई गई है। स्‍टेडियम तक जाने वाले रास्‍तों में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। इसके अलावा यहां पर मोबाइल इंटरनेट सेवा पूरी तरह से रात 10 बजे से बंद कर दी गई है। प्रशासन ने ऐलान किया है कि मोबाइल इंटरनेट पर यह बैनवन डे मैच के समाप्‍त होने के बाद से हटाया जाएगा। वहीं खिलाड़ियों के होटल भी चारों ओर भी कड़ी सुरक्षा व्‍यवस्‍था में तब्‍दील है।

हर गतिविधि पर नजर
इसके अलावा यहां पर स्टेडियम की सुरक्षा में पुलिस, आरएएफ, सीआरपीएफ के जवान तैनात करने के अलावा मैदान में ड्रोन कैमरा और बाहर 55 वीडियोग्राफर तैनात किए गए हैं। इसके साथ ही राज्य के पुलिस महानिदेशक खुद सारी सुरक्षा व्यवस्था की मॉनीटरिंग कर रहे हैं, जबकि आईजी रेंज तथा शहर पुलिस आयुक्त हर गतिविधि पर नजर बनाए हुए हैं। अधिकारियों का कहना है कि शांति व्‍यवस्‍था पूरी तरह से बनी रहेगी। बतातें चलें कि हार्दिक पटेल ने दो दिन पहले धमकी दी थी कि आज रविवार के दिन उनके समुदाय के करीब 50,000 लोग स्‍टेडियम पहंचेंगे। इसके अलावा ये लोग दोनों टीमों को मैदान में पहुंचने रोकेंगे। हार्दिक पटेल का आरोप है कि यहां पर सिर्फ बीजेपी से जुड़े लोगों को ही मैच के पास और पास दिए गए है। उनके समुदाय के लोगों को इससे दूर रखा गया है। जिससे अब ये लोग भी मैच देखने जाएंगे।

inextlive from Cricket News Desk

Cricket News inextlive from Cricket News Desk