एक शख्स के दिल्ली स्थित आवास से एक चिट्ठी बरामद हुर्इ
जम्मू  (पीटीआर्इ) । केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह का कहना है कि हम प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर हमेशा से ही गंभीर रहे हैं। सरकार पीएम की सुरक्षा को लेकर कोर्इ लापरवाही नहीं बरत रही है। वर्तमान में केवल 10 जिलों में सक्रिय माओवादी हैं। यह भी साफ है कि वे हारने वाली लड़ाई लड़ रहे हैं। हाल ही में पुणे में गुरुवार को पुलिस ने एक अदालत में बताया था कि उसने  पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके कथित संबंध  प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) के साथ होने की जानकारी मिली थी। खास बात तो इन पांच में एक शख्स के दिल्ली स्थित आवास से एक चिट्ठी बरामद हुर्इ थी। पुलिस ने कोर्ट में  बताया कि जिसमें जिक्र किया गया था कि माओवादी राजीव गांधी हत्याकांड जैसी घटना की तरह ही पीएम मोदी की हत्या की साजिश रच रहे है।

माआेवादी केवल 10 में ही मुख्य रूप से सक्रिय रह गए
हालांकि इस दौरान केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने यह भी भरोसा दिलाया कि  देश में माआेवादी हिंसा जल्द ही खत्म हो जाएगी क्योंकि उनके प्रभाव वाले क्षेत्रों की संख्या घटती जा रही है। पहले कभी देश में माआेवादियों के प्रभाव वाले क्षेत्र 135 जिलों में थे लेकिन अब यह  घटकर 90 हो गई है। इनमें भी माआेवादी केवल 10 में ही मुख्य रूप से सक्रिय है। वहीं  जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ अभियानों में लगी रोक की समयावधि बढ़ाए जाने पर उनका कहना था कि इसकी गहरार्इ से समीक्षा की जाएगी। इसके अलावा सभी संबंधित लोगों से विचार - विमर्श करने के बाद ही इस दिशा में उचित निर्णय लिया जाएगा। इसके साथ उन्होंने पाकिस्तान के लिए कहा कि उसे अपने देश से संचालित आतंकवादी गतिविधियों पर लगाम लगाना चाहिए।

तेजी से बढ़ रहा मानसून, 9 से 12 जून तक इन इलाकों में होगी भारी बारिश

जब 'क्रेन बेदी' ने उठवा ली थी पूर्व PM की कार, जानें देश की पहली महिला IPS के बारे में ये 10 बातें

National News inextlive from India News Desk