-सुबह से जेल के बाहर भाई को राखी बांधने के लिए लाइन में लगी बहने

-पुलिस ने जेल के बाहर किए सुरक्षा के इंतजाम

<-सुबह से जेल के बाहर भाई को राखी बांधने के लिए लाइन में लगी बहने

-पुलिस ने जेल के बाहर किए सुरक्षा के इंतजाम

BAREILLYBAREILLY:

रक्षाबंधन पर सेंट्रल जेल में बंद भाइयों की कलाई पर भी राखियां सजी, बहने भाइयों के लिए राखी बांधने के लिए सुबह से लाइन में लगी दिखी. दिन भर बारिश के चलते बहने अपनी लाइन में छाता लिए खड़ी रही. लेकिन लाइन नहीं छोड़ी. वहीं एसएसपी मुनिराज जी, एसपी सिटी और पुलिस ने अफसरों के साथ अनाथालय में रक्षाबंधन का त्योहार मनाया.

राखी बांध लिया रक्षा का वचन

रक्षाबंधन पर जेल में बंद भाइयों को राखी बांधने पहुंची बहनों ने राखी बांधकर रक्षा का वचन लिया. राखी बांधकर निकली बहनों ने बताया कि उन्होंने भाइयों से वचन लिया कि वह अब कोई अपराध नहीं करेंगे. दूर दराज शहरों के अलावा दूसरे डिस्ट्रिक्ट के भी बंदियों की बहनें राखियां बांधने के लिए पहुंची थी, जिसमें बदायूं से आई महिला ने बताया कि भाई बरेली में भाई गोविन्द दो वर्ष से बंद है. उसे बदायूं से बरेली सेंट्रल जेल में बंद है.

अनाथालय में भी मनाया गया रक्षाबंधन

मानव सेवा क्लब की ओर से आर्य समाज अनाथालय में बच्चो के साथ रक्षाबंधन मनाया गया. क्लब की लड़कियों ने अनाथालय के बच्चों को राखी बांधी, मिठाई खिलाई जिससे अनाथालय के सभी बच्चों के चेहरे पर खुशी लहर थी. इस मौके पर संस्था के अध्यक्ष सुरेंद्र बीनू सिन्हा, वेद प्रकाश सक्सेना, वरिष्ठ समाज सेवी रजनीश सक्सेना, किरण सक्सेना, आदि लोग मौजूद रहे.