-आवंटन से पहले ही चोरों ने मकान के उखाड़ लिए गेट और विंडो

- अराजकता के चलते आवंटियों के मकान भी खाली

1200-मकान रामगंगा आवासीय योजना में कुल बनाए गए

800-आवास हो चुके हैं आवंटित

400-आवास अभी होने हैं आवंटित

30-प्रतिशत लोग मकान लेने के बाद रहने पहुंचे

=====

BAREILLY :

रामगंगा आवासीय योजना के तहत बनी कॉलोनी बसने से पहले ही लुट गई. खाली पड़े फ्लैट्स में अराजक तत्वों का बसेरा है, जो आवास के गेट, विंडो, नल, बिजली के बोर्ड और वायरिंग तक निकाल ले गए. कॉलोनी में लगा इंडिया मार्का हैंड पम्प तक को भी चोरों ने नहीं छोड़ा. दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने संडे को कॉलोनी का रियलिटी चेक किया, तो चौंकाने वाला नजारा सामने आया. पढि़ए रिपोर्ट..

दर्जन भर मकान के गेट गायब

बीडीए ने रामगंगा आवासीय योजना में 12 सौ मकान बनाए थे. जिसमें से मात्र 800 ही मकान आवंटन हो पाए और 400 मकान आवंटन के लिए आवंटी ही नहीं पहुंचे, जिसके चलते वह मकान आज तक खाली पड़े हैं. वहीं जिन आवंटियों ने मकान लिया है वह भी असुरक्षा के चलते मकान में रहने के लिए अभी तक नहीं पहुंचे है. जिसके चलते कॉलोनी में रात ही नहीं दिन भी चोरियां हो रही हैं. कॉलोनी से चोरों ने करीब दर्जन मकानों के मेन गेट उखाड़ कर चोरी कर लिए हैं. चोरों ने विन्डो में लगे लकड़ी फ्रेम और शीशा तक निकाल लिया. या फिर अराजकतत्वों ने तोड़ दिया है. लाखों रुपए खर्च कर लगाए गए बिजली, पानी के उपकरण भी चोरी हो गए हैं.

चोरी से बीडीए अनजान

रामगंगा आवासीय योजना के तहत 1200 फ्लैट बनाकर बीडीए भूल गया. खाली पड़े फ्लैट्स की देखरेख के लिए कोई गार्ड या कर्मचारी तैनात नहीं किए. यही वजह है कि खाली पड़े फ्लैट्स से लाखों रुपए के सामान चोरी होने की बात से बीडीए अनजान है. इससे जाहिर होता है कि अफसर इस योजना के लिए कितना सजग हैं.

रहने वाले भी दहशत में

बीडीए के अफसरों का कहना है कि 30 प्रतिशत आबादी रामगंगा के मकानों में शिफ्ट हो चुकी है, लेकिन जो लोग रामगंगा कॉलोनी में रह रहे हैं वह भी असुरक्षा के चलते दहशत में हैं. लोगों का कहना है कि वह रात को गेट खोलकर बाहर झांकने से डरते हैं. डर लगता है कि रात को कोई बीमार हो जाए तो कैसे डॉक्टर के पास तक पहुंचेंगे. क्योंकि कॉलोनी में दिन भी अराजक तत्व घूमते रहे हैं तो रात को कहां सुरक्षित हैं.

====

रामगंगा आवास योजना में कुछ मकान खाली बचे हैं उन्हें आवंटन के लिए जल्द ही आवेदन मांगे जाएंगे. ताकि कॉलोनी में सभी मकान आंवटन हो जाए और आंवटी रहे. चोरों ने वहां पर मकानों में चोरी की है इसकी जानकारी नहीं है.

सुरेन्द्र कुमार, बीडीए वीसी