क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ: राजधानी में दो दिनों से हो रही बारिश से शहर पानी-पानी हो गया है. जिससे कि रांची नगर निगम की भी पोल खुल गई. नालियों में भरा कचरा रोड पर आ गया. वहीं जगह-जगह जल जमाव के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा. इतना ही नहीं विद्यानगर, हरमू, चुटिया के कई घरों में भी बारिश का पानी भर गया. दिनभर लोग घरों से पानी निकालने में ही लगे रहे. ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यह है कि नालियों के सफाई के लिए लाखों रुपए खर्च कर दिए गए. इसके बाद भी पानी की निकासी क्यों नहीं हो पा रही है.

बारिश के कारण मधुकम के अलावा आसपास का इलाका भर गया. रोड भी डूब जाने के कारण कुछ नजर नहीं आ रहा था. ऐसे में लोग जान जोखिम में डालकर अपने घर जा रहे थे. वहीं कई लोग तो गिरकर घायल भी हो गए.

मधुकम

सबसे व्यस्त माना जाने वाला मेन रोड भी झमाझम बारिश से अछूता नहीं रहा. जहां एक ओर की सड़क ही पानी में डूब गई. इस वजह से लोगों को नाले के पानी में डूबकतर जाना पड़ा.

मेन रोड

तेज बारिश ने सिटी के कई इलाकों जलमग्न कर दिया. अरगोड़ा से हरमू जाने वाली सड़क में अरगोड़ा चौक के पास ही काफी पानी भर गया. एक तरफ का रोड तालाब में तब्दील हो गया. लोगों की भी मजबूरी थी जो उस रास्ते से होते हुए अपने काम पर गए.

अरगोड़ा