फर्स्‍ट क्‍लॉस क्रिकेट में बने रिकॉर्ड
साल 2016-17 के रणजी सीजन को भले ही किसी और चीज के लिए याद किया जाए या नहीं, लेकिन एक बात के लिए यह रणजी सीजन रिकॉर्ड बुक में हमेशा के लिए दर्ज हो गया है। इस रणजी सीजन में जितने तिहरे शतक बने उतने कभी नहीं बने। बल्‍लेबाजों ने अपनी मेहनत और प्रतिभा से नए-नए रिकॉर्ड कायम किए। भारतीय टीम में करुण नायर ने इंग्‍लैंड के खिलाफ तिहरा शतक जड़ा है तो वहीं रणजी में भी कई बल्‍लेबाजों ने तिहरा शतक जड़ चर्चा बटोरी।

रणजी क्रिकेट देखते हो कि नहीं,यहां 117 साल पुराने रिकॉर्ड टूटते भी हैं और बनते भी
इस सीजन का पांचवां तिहरा शतक
रणजी सीजन का पांचवा तिहरा शतक जयपुर में उड़ीसा और गुजरात के बीच खेले जा रहे क्वार्टर फाइनल मुकाबले में बना। गुजरात के ओपनर समित गौहेल ने 723 गेंदों में नाबाद 359 रनों की पारी खेलकर फर्स्‍ट क्‍लॉस वर्ल्ड क्रिकेट का 117 साल पुराना रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। समित ने 723 गेंदों में नाबाद 359 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने 45 चौके और 1 छक्का लगाया।
क्रिसमस सेलीब्रेशन में क्‍या हुआ कि देखते ही देखते जम गए सभी भारतीय खिलाड़ी

रणजी क्रिकेट देखते हो कि नहीं,यहां 117 साल पुराने रिकॉर्ड टूटते भी हैं और बनते भी
117 साल पुराना रिकॉर्ड टूटा
359 रनों के इस विशाल आंकड़ें को छूते ही समित ने 117 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ अपना नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज कर लिया। इससे पहले प्रथम श्रेणी क्रिकेट में किसी ओपनर द्वारा सर्वाधिक स्कोर का रिकॉर्ड सरे काउंटी के बल्लेबाज बॉबी एबल के नाम था। बॉबी ने साल 1899 में समरसेट के खिलाफ 357 रन बनाए थे। ओवल के मैदान में खेली गई उस ऐतिहासिक पारी को अब तक कोई भी सलामी बल्लेबाज तोड़ नहीं पाया था। लेकिन अब यह रिकॉर्ड भारत के खिलाड़ी के नाम दर्ज हो गया।

रणजी क्रिकेट देखते हो कि नहीं,यहां 117 साल पुराने रिकॉर्ड टूटते भी हैं और बनते भी
ओपनर बल्‍लेबाज का सर्वाधिक स्‍कोर
समित गोहेल ने इस पारी में एक वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बना दिया। वह रणजी ट्रॉफी इतिहास में एक पारी में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले ओपनिंग बल्लेबाज भी बन गए। इससे पहले यह रिकॉर्ड मुंबई के विजय मर्चेंट के नाम था। जिन्‍होंने 1943 में मुंबई की ओर से खेलते हुए महाराष्ट्र के खिलाफ नाबाद 359 रन बनाए थे।
भारतीय टेस्‍ट क्रिकेट टीम के लिए शानदार रहा 2016

रणजी क्रिकेट देखते हो कि नहीं,यहां 117 साल पुराने रिकॉर्ड टूटते भी हैं और बनते भी
रणजी ट्राफी के शतकवीर
रणजी ट्रॉफी के लिए 2016 काफी खास रहा। इस सीजन में बल्‍लेबाजों ने जमकर रन बनाए। गुजरात की ओर से नवंबर में प्रियंक पांचाल ने पंजाब के खिलाफ नाबाद 314 रन बनाए थे। रणजी ट्रॉफी इतिहास में गुजरात के लिए किसी खिलाड़ी द्वारा लगाई गई यह पहली ट्रिपल सेंचुरी थी। इसके अलावा महाराष्ट्र के स्वप्निल गुगाले ने दिल्ली के खिलाफ नाबाद 351 बनाए थे। दिल्ली के युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत ने महाराष्ट्र के खिलाफ 308 रन की पारी खेली थी। वहीं गोवा के बल्लेबाज सगुन कामत ने सेना के खिलाफ 304 रनों की पारी खेली थी।
वाह! डॉन ब्रेडमैन का रिकॉर्ड न टूटे इसलिए इन्‍होंने जानबूझकर विकेट गंवा दिया

Image Source : espncricinfo.com

Cricket News inextlive from Cricket News Desk

Cricket News inextlive from Cricket News Desk