feature@inext.co.in
KANPUR : फिल्मों का स्मार्ट सिलेक्शन, शानदार परफॉर्मेंस और अवॉड्र्स। रणवीर सिंह की लाइफ में अभी कुछ ऐसा ही दौर चल रहा है। उनकी मल्टी-टैलेंटेड पर्सनालिटी से तो सभी वाकिफ हैं लेकिन लगता है कि वह एक आर्टिस्ट के तौर पर अपनी रिस्पॉन्सिबिलिटी को अच्छे से समझ रहे हैं तभी तो उन्होंने अपना एक म्यूजिक लेबल लॉन्च कर दिया है। रणवीर का कहना है कि म्यूजिक की दुनिया में करियर बनाने वाले टैलेंट्स के लिए उनका ये लेबेल एक बड़ा प्लैटफॉर्म साबित होगा।
50 साल बाद रीमिक्स करने के लिए भी तो कुछ हो : रणवीर


रीमिक्स के साथ हो ओरिजनल भी
रणवीर का इस बारे में कहना है, 'इस वक्त हमारे देश में ओरिजनल म्यूजिक के लिए बेस्ट टाइम है। फिलहाल रीमिक्स कल्चर चल रहा है। लोग इसे पसंद भी कर रहे हैं लेकिन वो ये भी पूछ रहे हैं कि ओरिजनल म्यूजिक कहां है। रीमिक्स कल्चर में कोई बुराई नहीं। ये मेरे फेवरिट मेनस्ट्रीम सॉन्ग्स हैं। लेकिन इसके साथ जरूरी है कि ओरिजनल म्यूजिक भी एग्जिस्ट करे। मेरा मतलब है कि आज से 50 सालों के बाद हमारे पास कुछ तो होना ही चाहिए न जिसे रीमिक्स किया जा सके। इसलिए जरूरी है कि जिन आर्टिस्ट्स के पास ओरिजनल वॉयस है, कहने के लिए कंटेंट है और टैलेंट है, उन्हें ऐसा प्लैटफॉर्म मिले जहां वह उसे शोकेस कर सकें और म्यूजिक के लिए कॉन्ट्रिब्यूट कर सकें।

आउटसाइडर के तौर पर मेरा कॉन्ट्रिब्यूशन
रणवीर ने इस म्यूजिक लेबल के लिए फिल्ममेकर नवजार ईरानी के साथ हाथ मिलाया है और इसे शुरू करने की वजह थोड़ी पर्सनल भी है। एक इंटरैक्शन के दौरान उन्होंने कहा, 'ये मेरा तरीका है इंडस्ट्री को कुछ लौटाने का। मैं यहां एक आउटसाइडर हूं और इस नाते मैंने हमेंशा नए और बेहतरीन टैलेंट को सपोर्ट करने की कोशिश की है। ये टैलेंटेड लोग डिजर्व करते हैं कि उन्हें देखा और सुना जाए।' रणवीर ने आगे कहा, 'हमारे देश में ऐसे बहुत से बच्चे हैं जिन्हें सिर्फ एक प्लैटफॉर्म चाहिए। मैंने ये प्रोजेक्ट गली ब्वॉय के पहले ही सोचा था। मैं खुद भी ऑल्टरनेटिव, अंडरग्राउंड, इलेक्ट्रॉनिक और हिप-हॉप म्यूजिक को पसंद करता हूं और काफी वक्त से इसे लॉन्च करने के बारे में सोच रहा था। हम इस इनीशिएटिव के साथ टैलेंटेड लोगों को प्रमोट  करेंगे, उन्हें ग्रूम करेंगे और एंडोर्स करें।
50 साल बाद रीमिक्स करने के लिए भी तो कुछ हो : रणवीर

नहीं हैं किसी रैट रेस में
रणवीर सिंह का रैप और सिंगिंग टैलेंट अपनी पिछली फिल्म गली ब्वॉय में बखूबी दिखा। बॉलीवुड के और भी कई एक्टर्स हैं जो गानों को अपनी आवाज दे चुके हैं और अपने एल्बम्स बना चुके हैं। लेकिन रणवीर ने आउटसाइडर्स के लिए ऐसा प्लैटफॉर्म क्रिएट करके खुद को लीग से अलग कर लिया है। इनफैक्ट, वो खुद भी कहते हैं कि वह किसी तरह की रैट रेस में नहीं हैं। वह कहते हैं, 'ये सिर्फ ऑथेंटिक एक्सप्रेशन का जरिया है। यहां किसी से कॉम्पिटीशन नहीं है। हम ये नहीं देख रहे कि हमें कितने व्यूज मिल रहे हैं, हम सिर्फ टैलेंट डिसकवर कर रहे हैं ताकि उन्हें सुना जा सके।'

रणवीर सिंह ने लांच किया अपना म्यूजिक लेबल, टैलेंटेड लोगों को मिलेगा मौका

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk