- ग्रामीणों का राशन बेच रहे मार्केट में

BAREILLY:

गरीबों का राशन कोटेदार मार्केट में ब्लैक कर दे रहे हैं. जिसकी वजह से गरीबों को उनका हक नहीं मिल पा रहा है. लेकिन कोटेदारों की यह हरकत मंडे को भारी पड़ गई. जिले के पांच कोटेदारों के लाइसेंस निरस्त कर दिए गए हैं. वहीं 15 कोटेदारों की शिकायत डीएम राघवेंद्र प्रताप सिंह के यहां पहुंची है. कांधरपुर के लोग भी मंडे को कलेक्ट्रेट कोटेदार के खिलाफ शिकायत लेकर पहुंचे थे.

कोटेदारों के लाइसेंस हुए निरस्त

जिले में करीब 1700 कोटेदार हैं. जिन कोटेदारों के लाइसेंस निरस्त हुए हैं उनमें शेरगढ़ के विद्याराम अमृता, हसीना बेगम, सकुटिया के कल्याण राय, आंवला के हरिद्वारी राय और भदपुरा के सूरजपाल का नाम शामिल हैं. 15 शिकायतें डीएम राघवेंद्र प्रताप सिंह के यहां पहुंची है. शिकायत के बाद मामले की जांच चल रही है. इनके खिलाफ भी कार्रवाई होना तय माना जा रहा है.

वसूल रहे एक्स्ट्रा पैसे

मंडे को कांधरपुर के करीब एक दर्जन लोग डीएम के पास कोटेदार के खिलाफ शिकायत लेकर पहुंचे थे. ग्रामीणों का यह आरोप कि ही कोटेदार उर्मिला आर्य पात्र होने के बाद भी राशन नहीं दी रही हैं. वहीं 7 व 8 यूनिट वाले कार्ड धारक से राशन के बदले एक्स्ट्रा 90 से 120 रुपए वसूल किए जा रहे हैं. ग्रामीण की शिकायत में डीएम ने मामले की जांच कराने का आश्वासन दिया.

पात्र लोगों को राशन वितरण नहीं करने वाले 5 कोटेदारों के खिलाफ कार्रवाई की गई है. वहीं 15 अन्य कोटेदारों के खिलाफ भी शिकायतें मिली हैं.

सीमा त्रिपाठी, डीएसओ