इस बार अलग होगा गणतंत्र द‍िवस
पहला ऐसा मौका होगा जब गणतंत्र द‍िवस के अवसर पर आसियान के दस सदस्य देशों के राष्ट्राध्यक्ष यहां पर मौजूद रहेंगे। ऐसे में सबसे खास बात यह है कि‍ भारत की जनता इस खास मौके पर आसियान नेताओं का मुख्य अतिथियों के रूप स्वागत करने और दीदार करने को बेकरार है। इस खास कार्यक्रम को यादगार बनाने के ल‍िए तेजी से तैयार‍ियां चल रही हैं। रक्षा और विदेश मंत्रालय स्थिति तैयार‍ियों पर नजरे गड़ाए हैं। वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इन पर नजर गड़ाए हैं। यहां तक की वो भी राजपथ स्थल पर मंच पर बैठने की स्‍थ‍ित‍ि तक का जायजा ले रहे हैं। गणतंत्र दिवस के कार्यक्रमों व परेड का गवाह बनने के लिए विभिन्न राज्यों से लोग देश की राजधानी आ रहे हैं।

इसल‍िए ट‍िकट काउंटरों पर उमड़ी भीड़
खास बात तो यह है क‍ि लोग गणतंत्र द‍िवस की परेड देखने के ल‍िए ट‍िकट काउंटरों पर लंबी-लंबी कतारे लगाएं खड़ें हैं। अधिकांश टिकट काउंटरों पर लंबी-लंबी कतारें लग रही हैं। हालांकि, टिकट काउंटर पर पहुंचने से पहले टिकट खत्म हो जाने से कुछ लोगों निराशा भी हाथ लग रही है। कुछ लोग ऐसे भी हैं जो कुछ दिनों से रोजाना लाइन में लग रहे हैं, लेकिन उनके हाथ में अभी तक टिकट नहीं आया है। सबसे अधिक मांग आगे की पंक्ति वाले 500 रुपये के टिकट की है। बतादें क‍ि 25 जनवरी को द‍िल्‍ली में आसियान शिखर सम्मेलन होगा। इस सम्‍मेलन में इंडोनेशिया, सिंगापुर, फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई, थाइलैंड, कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और वियतनाम के राष्ट्राध्यक्ष शामि‍ल होंगे।

IIT स्‍टूडेंट की नई पहल, अब ज्‍यादा नहीं आएगा ब‍िजली का बि‍ल

National News inextlive from India News Desk