पुलिस ने सरधना के जंगल में पकड़ी हथियार बनाने की फैक्ट्री

7 हजार में बंदूक व 3 हजार में बेचते थे तमंचा

Meerut. सरधना पुलिस ने बपारसी व मुल्हैड़ा के घने जंगलों में चल रही असलहों की फैक्ट्री चलाते दो हथियार तस्करों जामिन पुत्र अजीज और कासिम पुत्र एजाज को दबोच लिया. वहीं, सरधना निवासी खालिद फरार हो गया. पुलिस ने उनके पास कई अधबने और बने हुए हथियार व उपकरण बरामद किए.

जंगल में की घेराबंदी

एसपी देहात राजेश कुमार ने बुधवार को पुलिस लाइन में आयोजित प्रेसवार्ता में बताया कि सरधना पुलिस को सूचना मिली थी कि जंगलों में कुछ हथियार तस्कर हथियारों की फैक्ट्री चला रहे हैं. पुलिस ने सूचना पर जंगल की घेराबंदी कर दो हथियार तस्करों को मौके से दबोच लिया. गिरफ्तार हुए तस्करों ने बताया कि वह 7 हजार रुपये में बंदूक, तीन हजार में तमंचा व 10 हजार रुपये में राइफल बेचते थे.

यह हुआ बरामद

1 देसी बंदूक 12 बोर

2 देसी राइफल 315 बोर

1 देसी तमंचा 12 बोर

असलहा बनाने के लिए भारी मात्रा में बैरल, ट्रिगर, स्प्रिंग, इजेक्टर, फायर पिन, बट, रेती, सुम्मी, छेनी, पेचकस आदि मौके से मिला.