- पीडब्ल्यूडी और एनएचएआई ने सड़क हादसे रोकने के लिए शुरू की कवायद

- अतिक्रमण हटाने, रम्बल स्ट्रिप बनाने के साथ ही लगेंगी रिफ्लेक्टर व लिंकन लाइटें

varanasi@inext.co.in

VARANASI

रोड्स पर बढ़ रहे एक्सीडेंट्स को रोकने के लिए सुरक्षा उपाय बढ़ाए जाएंगे. लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने इसकी कवायद शुरू कर दी है. शहर और हाइवे पर अत्याधिक हादसे वाले 32 स्थान (ब्लैक स्पॉट) चिन्हित किए गए हैं. यहां कब्जा जमाये अतिक्रमण को हटाया जाएगा. रम्बल स्ट्रिप (स्पीड ब्रेकर) बनेंगे. रिफ्लेक्टर और लिंकन लाइटें लगाई जाएंगी. इसका मकसद है कि दुर्घटनाओं को कम किया जाये.

ट्रैफिक पुलिस ने किया चिन्हित

दरअसल, शहर और हाइवे पर लगातार दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं. ट्रैफिक पुलिस ने 32 ऐसी जगहें चिन्हित की है जहां आए दिन हादसे होते हैं. हादसों में तमाम लोग जान गंवा बैठते हैं तो कई दिव्यांग हो जाते हैं. हादसों की समीक्षा करने में सामने आया कि इसका कोई एक कारण नहीं, बल्कि तमाम वजहें हैं. इसके बाद इन्हें दूर करने की कवायद शुरू हो गई.

रोड सेफ्टी फंड से होगा काम

डीएम सुरेन्द्र सिंह के निर्देश पर रोड्स पर हादसे रोकने का काम चार विभाग मिलकर करेंगे. इसमें एडमिनिस्ट्रेशन, ट्रैफिक पुलिस, पीडब्ल्यूडी और एनएचएआई शामिल है. हादसे रोकने के लिए जो काम निर्धारित किए गए हैं. सभी काम पीडब्ल्यूडी व एनएचएआई के रोड सेफ्टी फंड से कराया जाएगा. इसकी कार्ययोजना तैयार कर ली गई है.

इन वजहों से होते हैं एक्सीडेंट्स

- वाहनों की तेज रफ्तार

- रोड पर इन्क्रोचमेंट

- रोड से सटे भवन, पेड़ व पोल्स

- अंधा या तेज मोड़

- बिना संकेतक लगे चौराहे

- हाइवे के कट्स

- नॉर्मल डिवाइडर्स

- रोड्स पर बने गड्ढे

- असमतल (अनहैंस) रोड

ये हैं हादसे वाली जगहें

- मकबूल आलम रोड

- फातमान रोड

- हरहुआ चौराहा

- कलेक्ट्री फार्म चौराहा

- पड़ाव चौराहा

- पंचक्रोशी मागर्1

- पड़ाव चौराहा

ये होंगे काम

- रोड्स से अतिक्रमण हटेगा.

- मोड़ पर संकेतक लगेंगे.

- कई जगहों पर रम्बल स्ट्रिप बनेगी.

- डिवाइडर्स पर रेडियम पेंटिंग होगी.

- चिन्हित जगहों पर लिंकन लाइट्स

रोड्स पर एक्सीडेंट रोकने के लिए विभाग संयुक्त रूप से काम करेंगे. इसकी कार्ययोजना तैयार कर ली गई है. जल्द ही निर्धारित बिन्दुओं पर काम शुरू हो जाएगा.

आशुतोष सिंह, सहायक अभियंता, पीडब्ल्यूडी