patna@inext.co.in

PATNA : पटना की खूबसूरती पर दाग लगाने वाले नाले भी अब यहां की शान बन जाएंगे. बिहार सरकार ऐसे प्रोजेक्ट पर काम कर रही है जिससे नालों के ऊपर भी वाहन तेजी से फर्राटा भर सकेंगे. यह बड़ा प्लान एक तरफ जहां पटनाइटस की राह आसान करेगा वहीं दूसरी तरफ गंदगी का दाग भी साफ कर देगा. इसके लिए वाहनों के सर्वे का काम चल रहा है.

वाहनों के लोड का सर्वेक्षण

पटना के बड़े नालों को किस तरह से बनाया जाए जिससे उसपर वाहनों के लोड का कोई असर न पड़े. इसके लिए नालों के आस पास से गुजरने वाली सड़कों पर वाहनों का प्रतिदिन का डेटा कलेक्ट किया जा रहा है. 24 घंटे टीम काम कर रही है और एक रोड पर कम से कम सात दिनों तक वाहनों की जानकारी जुटा रही है. इसकी जिम्मेदारी बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड को दिया गया है. आधा दर्जन एरिया में सर्वेक्षण का काम पूरा हो गया है और राजीव नगर एरिया में अंतिम चरण का सर्वेक्षण चल रहा है. सर्वे में लगी टीम का कहना है कि वाहनों का डाटा पूरा होने के बाद नालों पर सड़क को लेकर काम अगले चरण में पहुंच जाएगा. खुले नाले पटना और पटनाइटस के लिए बड़ी समस्या हैं. यह इमेज ही नहीं सेहत भी खराब करते हैं. जिस एरिया में खुला नाला है वहां मच्छरों की समस्या के साथ संक्रमण का खतरा भी अन्य इलाकों की अपेक्षा अधिक होता है.

मिट जाएगा गंदगी का कलंक

नालों पर एलिवेटेड सड़क बनते ही पटना और पटनाइटस के लिए गंदगी का कलंक मिट जाएगा. जानकारों की मानें तो पटना में हर खुला नाला सड़क के लिए तैयार किया जा रहा है और इसके लिए सर्वे का काम भी तेजी से आगे बढ़ रहा है. विभागीय सूत्रों की मानें तो पूर्व में जिन नालों पर वाहनों के सर्वे का काम पूरा हो चुका है वहां के लिए डीपीआर भी तैयार कराया जा रहा है. पटना के विकास में इसे बड़ी कड़ी बताया गया है.

यहां कराया जा रहा सर्वे

गायघाट

सैदपुर

बक्सई नाला

कुर्जी नाला

मीठापुर

टोलटैक्स

राजीवनगर

नालों पर एलिवेटेड सड़क के 5 फायदे

दूरी हो जाएगी कम, बढेगी वाहनों की रफ्तार

नालों पर सड़क बनने से मेन रोड पर जाम की समस्या होगी खत्म

एलिवेटेड सड़क से नाला होगा कवर और एरिया की बढ़ जाएगी सुंदरता

खुला नाला पर एलिवेटेड सड़क संबंधित एरिया में दूर करेगी संक्रमण का खतरा

मेन सड़क के बजाए लोगों के लिए सुविधाजनक होगी एलिवेटेड सड़क