-टॉप कैरेट ज्वैलर्स में 12 वें दिन भी खाली हाथ पुलिस

-जेलों में जाकर फिर से लुटेरों के फोटो का किया गया मिलान

BAREILLY: टॉप कैरेट ज्वैलर्स शॉप में लूट को 12 दिन बीत चुके हैं लेकिन पुलिस अभी तक खाली हाथ है. पुलिस की जांच सीसीटीवी फुटेज तक जाकर टिक गई है. थर्सडे को ज्वैलरी शोरूम के मालिकान आईजी डीके ठाकुर से जाकर मिले और केस से जुड़ी प्रोग्रेस के बारे में पूछा. उन्होंने केस की जल्द खुलासे की भी मांग की है. वहीं पुलिस जेलों में बदमाशों की पहचान के लिए फुटेज लेकर घूम रही है.

अभी तक नहीं हुई पहचान

टॉप कैरेट ज्वैलर्स लूटकांड में पुलिस के पास जो सीसीटीवी फुटेज मिली है, उससे बदमाशों के चेहरे साफ नजर आ रहे हैं लेकिन अभी तक उनकी पहचान नहीं हो सकी है. पुलिस ने बरेली के अलावा बदायूं, शाहजहांपुर, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, रामपुर, मुरादाबाद व अन्य जिलों की पुलिस को फुटेज उपलब्ध कराई है. इसके अलावा मुखबिरों को भी फुटेज दी है. सोशल मीडिया के जरिए पब्लिक तक फोटो पहुंचाए गए हैं लेकिन अभी तक किसी ने पहचान नहीं की है.

पीलीभीत की जेल में फिर पहुंची पुलिस

बीसलपुर की ओर से लुटेरों के आने से ज्यादा आशंका है कि लुटेरे पीलीभीत के हो सकते हैं. इसलिए पीलीभीत में पुलिस लगातार डेरा डाले हुए है. थर्सडे को एक बार फिर से पीलीभीत की जेल में पुलिस टीम पहुंची और फुटेज के आधार पर लुटेरों की पहचान की कोशिश की गई. वहीं पुलिस गोला, खुटार, बंडा, बिलसंडा एरिया में घूम रही है.