-लंबे समय से कई वारदातों में पुलिस को थी लुटेरों की तलाश

-फूलपुर में व्यवसायी की हत्या कर हुई लूट की वारदात में भी शामिल थे लुटेरे

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: हत्या कर लूट की घटना को अंजाम देने में माहिर शातिर लुटेरे आखिरकार गुरुवार रात पुलिस के हत्थे चढ़ गए. पुलिस ने शातिर लुटेरों के पास से बड़ी संख्या में लूट का सामान भी बरामद किया. इस दौरान पुलिस की पूछताछ में लुटेरों ने कई घटनाओं को अंजाम देने की बात कबूल कर ली. लुटेरों द्वारा अंजाम दी गई घटनाओं में फूलपुर में आभूषण व्यवसायी की हत्या कर गहने लूटने, सोरांव में गोली मारकर ढाई लाख की लूट समेत कुछ छह घटनाओं का खुलासा हुआ. पुलिस ने लुटेरों के पास से लूट के गहने, तीन बाइक, असलहे समेत बड़ी संख्या में सामान बरामद किया.

आभूषण व्यापारी ने कर ली थी पहचान

शुक्रवार को घटना का खुलासा करते हुए एसएसपी नितिन तिवारी ने पुलिस लाइन में प्रेस कांफ्रेस के दौरान बताया कि 26 मई को फूलपुर में आभूषण व्यवसायी विनोद केसरवानी की हत्या कर गहने लूटे लिए गए थे. इस दौरान लूट की वारदात को अंजाम देने पहुंचे बदमाशों में एक को विनोद ने पहचान लिया था. हत्या की जांच के दौरान यह बात पुलिस के सामने भी आयी थी. घटना की जांच के लिए फूलपुर पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने व्यवसायी के बगल फोटो स्टेट की शॉप चलाने वाले अमित पासी पुत्र शिव पूजन निवासी मुबारकपुर बहरिया की घेराबंदी की तो गिरोह का पता चल गया. एसपी गंगापार सुनील सिंह के नेतृत्व में शुक्रवार को पुलिस टीमों ने गिरोह के बदमाश ननके यादव उर्फ रविनंदन पुत्र लाल बहादुर निवासी बलीपुर, सिकंदरा, अमित पासी और विनीत पटेल उर्फ बबलू पुत्र मुंशीलाल निवासी सैफखानपुर बहरिया को गिरफ्तार कर लिया गया. एसएसपी के मुताबिक, गिरोह के दो बदमाश सुशील सिंह पुत्र प्रमोद सिंह निवासी तुलापुरवन, बहरिया और अभिषेक फरार हैं. बदमाशों ने झूंसी में हमला कर पल्सर लूटने, बहरिया में तमंचा दिखाकर बाइक लूटने, सोरांव में दो लाख 35 हजार और एक लाख 37 हजार रुपये लूटने तथा मऊआइमा में मोबाइल और नकदी लूटने की बात कबूल की है. बदमाशों के कब्जे से तमंचे, कारतूस, लूट की बाइक, मोबाइल, गहने आदि बरामद हुए हैं.