- खरखौदा पुलिस ने लूट के लिए हत्या करने वाले दबोचे

- यतीश शर्मा हत्याकांड का भी हो गया खुलासा

meerut@inext.co.in

Meerut: बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हैं कि लूट के लिए हत्या करने से भी परहेज नहीं करते हैं. खरखौदा पुलिस ने लूट के खातिर हत्या करने वाले एक गैंग को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. खरखौदा में बाइक और फोन लूटने के लिए की गई थी शिक्षक की हत्या. पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

यतीश शर्मा की हत्या की

क्क् मार्च को कैली-कबट्टा मार्ग पर शिक्षक यतीश शर्मा को गन प्वाइंट पर लेकर बाइक और फोन मांगा था. जिसका शिक्षक ने विरोध किया, इतने में बदमाशों ने यतीश शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी थी. इस संबंध में खरखौदा थाने में मुकदमा पंजीकृत किया गया था.

पुलिस देखकर भागने का किया प्रयास

एसएसपी ओंकार सिंह ने बताया कि खरखौदा एसओ रनवीर सिंह ने मोहिद्दीनपुर रोड पर बुधवार को चेकिंग कर रहे थे. उसी दौरान दो बाइक पर तीन युवकों को संदिग्ध परिस्थितियों में तलाशी के लिए रोका, लेकिन आरोपी नहीं रुके. पुलिस ने उनका पीछा कर गुलेशर निवासी कबट्टा खरखौदा, शाकिर निवासी बहादुदगढ़ हापुड़, शेरूद्दीन निवासी मसूरी गाजियाबाद को पकड़ लिया. तलाशी में इनके पास से दो तमंचे, चार कारतूस मिले तो पुलिस ने इनसे सख्ती से पूछताछ की तो सामने आया कि बदमाश लूट के लिए इस मार्ग पर हत्या से भी परहेज नहीं करते हैं. पुलिस ने दो बाइक समेत तमंचा, कारतूस भी बरामद कर लिया है.