-मेट्रो रेल के रूट निर्धारण के लिए रूट मैप पर विचार-विमर्श

-कमिश्नर की अध्यक्षता में अधिकारियों ने रखी अपनी राय

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सिटी को सौगातों का सिलसिला जारी है. पहले केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय से स्मार्ट सिटी बनाए जाने की मंजूरी का तोहफा. और अब मुख्यमंत्री से इलाहाबाद में मेट्रो रेल को हरी झंडी. वहीं, सीएम के बुधवार को संगम नगरी में मेट्रो रेल के संचालन की घोषणा करने के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने भी इस दिशा में रफ्तार पकड़ ली है. गुरुवार को कमिश्नर राजन शुक्ला की अध्यक्षता में हुई बैठक में अधिकारियों ने मोनो/मेट्रो रेल के रूट निर्धारण पर विचार विमर्श किया. इस मौके पर एडीए के चीफ टाउन प्लानर पीके सोलंकी ने रूट मैप के माध्यम से चारों रूट के बारे में जानकारी दी.

88 किमी होगा रूट

बैठक के दौरान प्रस्तुत किए गए रूट प्लान में रूट नंबर एक, दो, तीन व चार के बारे में बताया गया. पीके सोलंकी ने बताया कि सभी रूट पर मिलाकर मेट्रो रेल कुल 88.8 किमी का सफर तय करेगी. रूट नंबर दो सर्वाधिक लंबा होगा जबकि रूट नंबर तीन की दूरी सबसे कम होगी. इस मौके पर परिवहन, टै्रफिक पुलिस, नगर निगम, भूगर्भ जल आदि विभागों ने अपनी सुझाव दिए.

आप भी जानिए

रूट नंबर एक (पश्चिम-पूर्व)

कुल दूरी- 30.20 किमी

कहां से कहां तक- मनौरी टर्मिनल, बम्हरौली, ट्रांसपोर्ट नगर, हरवारा सुलेम सराय, चौफटका, हाईकोर्ट, रेलवे स्टेशन (आल सेंटर चर्च), पीडी टंडन पार्क, केपी कॉलेज, तुलाराम बाग, संगम, झूंसी, त्रिवेणीपुरम से चक्र हरिहर वन टर्मिनल तक.

रूट नंबर दो (उत्तर-दक्षिण)

कुल दूरी- 40.20 किमी

कहां से कहां तक- इलाहाबाद बाई पास टर्मिनल, जलालपुर, प्रतापगढ़ रोड क्रासिंग, शांतिपुरम योजना, फाफामऊ रेलवे स्टेशन, एमएनएनआईटी, गोविंदपुर, आईईआरटी, एयू, भारद्वाज आश्रम, टैगोर टाउन, सोहबतियाबाग, नैनी रेलवे स्टेशन, आईटीआई, यूएसआईडीसी, करछना कोहारा क्रासिंग टर्मिनल तक.

रूट नंबर तीन (पश्चिम-पूर्व)

कुल दूरी- 7.70 किमी

कहां से कहां तक- सूबेदारगंज, चौफटका, लूकरगंज, खुसरूबाग, नूरूल्लाह रोड क्रासिंग, सर्राफा बाजार, खुल्दाबाद, कीडगंज टर्मिनल तक.

रूट नंबर चार (उत्तर-दक्षिण)

कुल दूरी- 10.70 किमी

कहां से कहां तक- एसटीपी महेबा पट्टी, शियाट्स, मामा भांजा, सीओडी गेट क्रासिंग, इरादतगंज टर्मिनल तक.

होगा स्थलीय सत्यापन

रखे गए प्रस्ताव के स्थलीय सत्यापन हेतु सेवा प्रबंधक रोडवेज, चीफ टाउन प्लानर, एडीए, आरटीओ, नगर निगम चीफ इंजीनियर की संयुक्त टीम एंटीग्रेटेड प्लान की सर्वे रिपोर्ट तत्काल प्रस्तुत करेगी. विभिन्न विभागों द्वारा सुझावों पर विचार विमर्श के उपरांत शासन को भेजे जाने वाले मेट्रो रेल के प्रस्ताव को अंतिम रूप देते हुए शासन के अनुमोदनार्थ भेजा जाएगा. बैठक में डीआईजी भगवान स्वरूप, डीएम कौशलराज शर्मा, एसएसपी केएस इमैनुएल, एडीए वीसी अजय कुमार सिंह, नगर निगम चीफ इंजीनियर लोकेश जैन, चीफ इंजीनियर एडीए आरएन सिंह मौजूद रहे.