- एयरपोर्ट हवाई पट्टियों और विस्तार के लिए बजट में मिले 1,000 करोड़

- चकेरी एयरपोर्ट में 50 एकड़ में प्रस्तावित है 400 करोड़ से नया टर्मिनल

-टर्मिनल की डिजाइन पास है, एयरबस के साथ 8 एयरक्राफ्ट होंगे पार्क

kanpur@inext.co.in

KANPUR : यूपी सरकार ने बजट में एयरपोर्ट में हवाई पट्टियों और विस्तार के लिए 1,000 करोड़ के बजट का प्रावधान किया है. इसके तहत चकेरी एयरपोर्ट में 400 करोड़ की लागत से नए टर्मिनल निर्माण को लेकर बजट की कमी पूरी हो जाएगी. टर्मिनल का डिजाइन पास हो चुका है. टेंडर प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है. बनाए जा रहे सिविल इन्क्लेव में 8 बड़े एयरक्राफ्ट एक साथ पार्क किए जा सकेंगे. यही नहीं कार्गो टर्मिनल का भी निर्माण किया जाएगा, जिससे व्यापारी वर्ग को बड़ी राहत मिलेगी. नए टर्मिनल के निर्माण के बाद दुनिया के बड़े एयरक्राफ्ट में शुमार एयरबस को भी चकेरी एयरपोर्ट पर लैंड कराया जा सकेगा.

बदला गया डिजाइन

चकेरी एयरपोर्ट पर इंडियन एयरफोर्स का स्वामित्व है. सिविल इन्क्लेव का डिजाइन 3 महीने पहले तैयार किया गया था, लेकिन एयरफोर्स ने इस पर अपनी आपत्ति जता दी थी. इसके बाद एयरफोर्स की निगरानी में नए सिरे से डिजाइन बनाया गया, जिसे सैटरडे को आईएएफ स्टेशन के सीओओ ने अपनी हरी झंडी दे दी. जिसके बाद टेंडर के लिए इसकी कॉस्टिंग पर कार्य शुरू कर दिया गया है. दिसंबर तक टेंडर प्रक्रिया को शुरू कर दिया जाएगा. इसमें कार्गो टर्मिनल भी बनाया जाएगा. जो उद्यमियों के लाभदायक होगा.

-----------

300 पैसेंजर्स की क्षमता

नया सिविल इन्क्लेव 300 पैंसेजर्स की क्षमता का बनाया जाएगा. इसके बनने के बाद लखनऊ एयरपोर्ट के बाद यूपी में कानपुर को बड़े टर्मिनल का दर्जा प्राप्त हो जाएगा. अनुमानित कीमत के मुताबिक 4 अरब की लागत से इसे बनाया जाएगा. बता दें कि 2.5 करोड़ की लागत से पीडब्ल्यूडी द्वारा नए सिविल इन्क्लेव की बाउंड्री वॉल का निर्माण कार्य चल रहा है.

------------

आंकड़ों में एयरपोर्ट

-300 पैसेंजर्स की क्षमता का होगा सिविल इन्क्लेव

-400 करोड़ की लागत से बनकर होगा तैयार

-20 हेक्टेअर (50 एकड़) जमीन पर बनेगा नया टर्मिनल

-82 करोड़ की कीमत से खरीदी गई है टोटल जमीन

-20 हेक्टेअर जमीन जुलाई में की जा चुकी है हैंडओवर

-------------

एनएच-2 से जुड़ेगा एयरपोर्ट

नए टर्मिनल को कानपुर-इलाहाबाद हाईवे से जोड़ने के लिए लगभग 2.3 किमी. की सड़क का निर्माण किया जाना है. इसके लिए स्थानीय गांव की खेती की जमीन अधिग्रहित की जानी है. इसमें लगभग 70 करोड़ रुपए खर्च होने हैं. एडीएम एलए केहरि सिंह ने अधिग्रहण के लिए प्रस्ताव शासन को भेज दिया था. प्रस्तावित बजट में इसके लिए पैसा मिलने की उम्मीद बढ़ गई है. --------------

चकेरी एयरपोर्ट पर नए टर्मिनल की डिजाइन पास हो चुकी है. टेंडर प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. इस बजट से नए टर्मिनल में पैसे की कमी पूरी हो जाएगी और कार्य तेजी से शुरू हो सकेगा.

-जमील खालिक, डायरेक्टर, चकेरी एयरपोर्ट.

----------