-सुबह 10 बजे से ही प्रदर्शन के लिए पहुंचने लगे थे दूसरे डिस्ट्रिक्ट के स्टूडेंट्स

-सछास के कार्यकर्ताओं ने फेल स्टूडेंट्स के साथ मिलकर किया 3 घंटे प्रदर्शन

>BAREILLY :

उत्तरपुस्तिकाओं की जांच को लेकर उग्र स्टूडेंट्स ने ट्यूजडे को जमकर गदर काटा. यूनिवर्सिटी के बंद गेट को फांदते हुए स्टूडेंट्स का हुजूम कैम्पस में एंट्री कर गया. यूनिवर्सिटी प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए वीसी ऑफिस पहुंच गए, जहां, वाइस चांसलर गेट का ताला तोड़ने की कोशिश की. स्टूडेंट वीसी के रूम में घुसना चाह रहे थे, लेकिन पुलिस बल ने उन्हें रोक दिया. घंटों चले हंगामे के बाद करीब तीन बजे वीसी पहुंचे और उन्होंने स्टूडेंट्स से ज्ञापन लिया. मांग पूरी होने का आश्वासन मिलने के बाद स्टूडेंट्स शांत हुए.

सुबह से ही एकत्र होने लगे स्टूडेंट्स

सुबह 10 बजे से ही आरयू में प्रदर्शन करने के लिए स्टूडेंट्स गेट के बाहर इकट्ठे होने लगे थे. स्टूडेंट्स में बरेली के अलावा दूसरे जिला बदायूं, पीलीभीत, शाहजहांपुर और बिजनौर के भी स्टूडेंट्स शामिल रहे. 12 बजे सभी स्टूडेंट्स एकत्र होकर आरयू के प्रशासनिक भवन के बाहर पहुंचे. वहां पर सिक्योरिटी गार्ड ने गेट पहले से ही बंद कर लिया, लेकिन विरोध करने वाले स्टूडेंट्स ने गेट कूद कर अंदर घूस गए और उसके बाद गेट खोल दिया. प्रदर्शनकारियों ने वीसी मुर्दाबाद के नारे भी लगाए.

वीसी से रखी मांगे

-मेन एग्जाम में फेल स्टूडेंट्स की कॉपियों का पुनर्मूल्यांकन कराया जाए.

-पीएचडी प्रवेश परीक्षा परिणाम 2017 में जारी हुआ था अभी तक प्रवेश प्रक्रिया शुरू नहीं हुई. प्रवेश प्रक्रिया शुरू कराई जाए और नए सत्र के लिए प्रवेश प्रवेश परीक्षा की प्रक्रिया की जाए.

-आरयू में बढ़ती छेड़खानी की वारदातों पर अंकुश लगाने के लिए आरयू सुरक्षा बढ़ाए.

-आरयू में कैंपस में संचालित कोर्स की प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद रिक्त सीटों प्रवेश के लिए विशेष प्रावधान किए जाए, जिससे रिक्त सीटों पर स्टूडेंट्स को मौका मिल सके.

-पंजीकृत स्टूडेंट्स को अभी तक शुल्क प्रतिपूर्ति व छात्रवृत्ति नहीं आई है इस पर प्रभावी कदम उठाए जाएं.

पहले से आरयू में कर दिए थे इंतजाम

स्टूडेंट्स के विरोध प्रदर्शन करने की सूचना पर आरयू प्रशासन पहले से ही अलर्ट हो गया. इसके लिए पहले से ही पुलिस फोर्स के साथ सिक्योरिटी गार्ड को भी अलर्ट कर दिया गया था. प्रशासनिक भवन के सामने लगे गमले हंगामा करने वाले स्टूडेंट्स तोड़ न दें, इसके लिए गमलों को पहले से ही हटा लिया गया था. हंगामा की सूचना की जानकारी पर पुलिस के अफसर भी पल-पल की जानकारी लेते रहे. हंगामा करने वालों में आरयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष शिव प्रताप सिंह यादव, समाजवादी छात्र सभा से हृदेश यादव, अनूप यादव, सोहेल हसन, जितेन्द्र गंगवार, गगनदीप गंगवार, सुमित यादव, सुल्तान अली, हरेन्द्र कन्नौजिया, वैभव गंगवार, मंजीत सिंह, गजेन्द्र कुर्मी, लोकेश पटेल, हिमांशु यादव, अजय प्रताप सिंह,कैलाश, नवनीत, नितेश भारद्वाज, मोहित भारद्वाज, जोगेन्द्र पटेल, बृजेश, प्रदीप और राहुल भारती आदि मौजूद रहे.

कैंपस में दिन भर भटके फिर चले गए

आंवला के मुतलकपुर निवासी वीरपाल अपनी दिव्यांग बेटी विनीता कुमारी को लेकर सुबह 9 बजे ही आरयू पहुंच गए, और 10 बजे का इंतजार करने लगे. लेकिन 10 बजे के बाद पुलिस ने उन्हें अंदर जाने से रोक दिया, बताया यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन है इसीलिए इंतजार करो. जिस पर वीरपाल बोले मेरी बेटी की तो किस्मत ही खराब है. इंटरमीडिएट में अब्सेंट दिखा दिया और अब बीएससी पार्ट टू केमिस्ट्री में फेल है. वह कॉपी देखने के लिए आरयू आए थे. पूरा दिन बैठी रही विनीता शाम को परेशान होकर 3 बजे वापस चली गई.

सुबह से इंतजार शाम को मायूसी

दराव नगर आंवला से दिव्यांग भाई आशुतोष पाठक बहन योग्यता पाठक को लेकर आरयू पहुंचा. योग्यता ने बताया कि उसे केमिस्ट्री में फेल कर दिया गया है. वह भाई की कॉपी दोबारा चेक कैसे कराए या कॉपी कैसे देखा जाएगा यह जानने आई थी. लेकिन 3:30 बजे तक बैठी रही जब कुछ नहीं पत्ता चला तो थक कर वापस चली गई.

बेटी के साथ मां भी करती रही इंतजार

शहर के ही मोहल्ला साहूकारा निवासी शिवांगी वर्मा बरेली कॉलेज की बीए सेकंड ईयर की छात्रा है. उनका प्रैक्टिकल छूट गया, जिसके लिए वह परीक्षा नियंत्रक से अनुमति लेने के लिए आरयू अपनी मां के साथ पहुंची थी लेकिन आरयू में धरना के चलते पूरे दिन बाहर बाउंड्री पर बैठी रही. वहीं जादोपुर निवासी कमलेश भी मां के साथ प्रैक्टिकल की जानकारी के लिए पहुंची थी. तीन बजे तक इंतजार करती रही जिसके बाद खाली लौटना पड़ा.

1500- हजार से अधिक आरटीआई रिचेकिंग के लिए पहुंची

78- प्रतिशत स्टूडेंट् बीएससी थर्ड ईयर कैमिस्ट्री में फेल

88- प्रतिशत फ‌र्स्ट ईयर व सेकेण्ड ईयर में फेल

50- प्रतिशत स्टूडेंट्स एमएससी मैथ्स में फेल

78- प्रतिशत स्टूडेंट्स एमएससी केमिस्ट्री में फेल

---------

प्रदर्शन करने वाले स्टूडेंट्स और छात्र नेताओं से ज्ञापन ले लिया गया है. ज्ञापन में की गई मांगों पर विचार कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

प्रो. अनिल शुक्ला, वीसी आरयू