प्रोडक्ट लीडर के रूप में
रुचि सांघवी मूलतः पुणे (महाराष्ट्र) की रहने वाली है। उन्‍होंने अमेरिका की कार्नेगी मेलन यूनीवर्सिटी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की पूरी की। इस दौरान इनकी मुलाकात आदित्य अग्रवाल से हुई जो इनके पति हैं। 2004 में आदित्‍य और रुचि ने ऑरेकल कंपनी ज्वॉइन कर ली। इसके एक साल उन्‍होंने और आदित्य ने  साथ फेसबुक का रुख कर लिया। इस दौरान उन्‍होंने फेसबुक में प्रोडक्ट लीडर के रूप में काम किया।

ये हैं फेसबुक की पहली महिला इंजीनियर,इन्होंने दिया था न्यूज फीड का आइडिया

50 हजार नए यूजर्स

इस दौरान मार्क जुकरबर्ग समेत सभी लोग फेसबुक को इंगेज करने के तरीके ढूंढ रहे थे। इस दौरान रुचि ने न्‍यूज फीड जैसा आइडिया दिया। मार्क जुकरबर्ग ने इसे पास कर दिया। अगली रात में ही उसे लॉन्‍च कर दिया गया। हालांकि इस आडिया की लॉन्‍िचंग के बाद कुछ लोगों ने इसका विरोध किया। वे इसे न्‍यूज फीड फीचर को बंद कराना चाहते थे। हालांकि फिर भी फेसबुक टीम डटी रही। आज उसी का परिणाम हैं कि हर घंटे 50 हजार नए यूजर्स मिल रहे हैं।

ये हैं फेसबुक की पहली महिला इंजीनियर,इन्होंने दिया था न्यूज फीड का आइडिया

बेस्ट इंजीनियर अवॉर्ड

वहीं रुचि ने 2010 में रूची फेसबुक छोड़ अपने पति के साथ कोव नाम की क्लाउड कंपनी स्टार्ट की। इसके बाद वह ड्रॉपबॉक्स की वाइस प्रेसिडेंट, प्रोडक्ट मैनेजर बनीं। हालांकि बाद में वहां भी उन्‍होंने जॉब छोड़ दी। रूची को फेसबुक में अपने काम के चलते 2011 में बेस्ट इंजीनियर का अवॉर्ड भी मिल चुका है। इतना ही नहीं रुचि ने अमेरिका के लॉबी ग्रुप FWDus की फाउंडर पर भी काम कर चुकी हैं।

Technology News inextlive from Technology News Desk

Technology News inextlive from Technology News Desk