- सदन से पहले पार्षदों की हुई सर्वदलीय बैठक

- भाजपा पार्षद भी रहे मौजूद, बनाई गई रणनीति

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW लंबे इंतजार के बाद शनिवार को होने जा रहे सदन में उठने वाले एजेंडों को लेकर पार्षदों ने सर्वदलीय बैठक कर रणनीति तैयार की. नेता सदन सपा हों या फिर कांग्रेसी पार्षद, यह तस्वीर साफ कर दी गई है कि इस बार हंगामे पर फोकस नहीं होगा बल्कि जनता से जुड़े विकास के मुद्दों पर ही अधिकारियों से जवाब लिए जाएंगे. अगर जवाब नहीं मिलते हैं तो फिर आक्रामक रुख अख्तियार किया जाएगा.

हमारा उद्देश्य सिर्फ विकास

बैठक में नेता सदन सपा सैय्यद यावर हुसैन रेशू ने कहा कि हमारा उद्देश्य हंगामा कर सदन की दिशा को भटकाना नहीं रहेगा बल्कि इस बार विकास से जुड़े एक-एक बिंदु पर सवाल दागे जाएंगे. ये सवाल उन्हीं अधिकारियों से किए जाएंगे, जो उस मुद्दे से जुड़े होंगे. किसी अन्य अधिकारी को जवाब नहीं देने दिया जाएगा.

शांतिपूर्ण चलेगा सदन

कांगे्रस पार्षद गिरीश मिश्रा ने कहा कि सदन शांतिपूर्ण ढंग से चलाया जाएगा. खासकर ईईएसएल और ईकोग्रीन के साथ-साथ नाला सफाई के मुद्दे प्रमुखता से उठाए जाएंगे. पार्षद ममता चौधरी और पार्षद सुशील तिवारी पम्मी ने कहा कि इस बार एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने वाली कंपनी ईईएसएल और घरों से कूड़ा कलेक्शन का काम करने वाली कंपनी ईकोग्रीन को लेकर जमकर सवाल पूछे जाएंगे.

पॉलीथिन को लेकर भी सवाल

सदन में पॉलीथिन अभियान को लेकर भी सवाल उठाए जाएंगे. पार्षदों का मानना है कि अभियान को लेकर निगम की ओर से तेजी तो दिखाई गई लेकिन गुजरते वक्त के साथ अभियान स्वत: बंद हो गया. जिससे अब शहर में फिर धड़ल्ले से बैन पॉलीथिन यूज हो रही है.

अबकी खाना लेकर नहीं आएंगे..

पार्षदों ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि पिछले सदन की तरह इस बार पार्षद घर से खाना लेकर नहीं आएंगे. इस बार सिर्फ मुख्य फोकस विकास से जुड़े बिंदुओं पर चर्चा करने का रहेगा. पार्षदों का मानना है कि घर से खाना लेकर आना नौटंकी का हिस्सा समझा जा सकता है.

बाक्स

सत्ता पक्ष भी परेशान

वार्डो में विकास न होने से विपक्ष के साथ-साथ सत्ता पक्ष भी परेशान है. यही वजह है कि सर्वदलीय बैठक में भाजपा के पार्षद भी शामिल हुए और तय किया कि विकास से जुड़े मुद्दों को लेकर एक स्वर में आवाज उठाई जाएगी. बैठक में मुकेश सिंह मोंटी, मो. सलीम, शफीकुर्रहमान समेत करीब तीन दर्जन से अधिक पार्षद मौजूद रहे.