सचिन ने एसोसिएशन को धन्यवाद देते हुए कहा कि इसी संगठन ने शुरुआती क्रिकेट जीवन में उन्हें खेल सुविधाएं उपलब्ध करवाईं.

"मैं जब भी प्रैक्टिस करता था, मुझे जब भी कुछ ज़रूरत होती थी, एमसीए ने मेरी पूरी मदद की. मेरी तैयारियों के लिए सही पिच, सही बॉलर उपलब्ध करवाए. जूनियर लेवल से टीम इंडिया का हिस्सा बनने तक के सफ़र में मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने मुझे हर सुविधा मुहैया करवाई."
-सचिन तेंदुलकर, क्रिकेटर

उन्होंने कहा, "मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के साथ मेरा संबंध 29 साल पुराना है. मैं जब भी प्रैक्टिस करता था, मुझे जब भी कुछ ज़रूरत होती थी, एमसीए ने मेरी पूरी मदद की. मेरी तैयारियों के लिए सही पिच, सही गेंदबाज़ उपलब्ध करवाए. जूनियर लेवल से लेकर टीम इंडिया का हिस्सा बनने तक के सफ़र में मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने मुझे हर सुविधा मुहैया करवाई."

उन्होंने कहा कि भारत के लिए खेलना उनका यादगार क्षण रहेगा. सचिन का कहना था कि मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन अगली पीढ़ी के क्रिकेटरों के लिए बेहतरीन प्लेटफॉर्म दे रहा है. इससे उन्हें भारतीय क्रिकेट का भविष्य उज्जवल दिखाई दे रहा है.

14 नवंबर से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सचिन तेंदुलकर वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट करियर का अंतिम और 200वां टेस्ट खेलने जा रहे हैं.

उनकी महान उपलब्धियों के लिए सोमवार की शाम को कांदीवली स्पोर्ट्‍स कॉम्पलेक्स में बड़ी संख्या में मौजूद प्रशंसकों के बीच उनका सम्मान किया गया.

इस मौक़े पर मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष शरद पवार भी मौजूद थे. शरद पवार ने घोषणा की कि कांदिवली स्पोर्ट्‍स कॉम्पलेक्स को अब आगे से सचिन जिमखाना क्लब के नाम से पुकारा जाएगा.

International News inextlive from World News Desk