शमी ने तीन विकेट लिये हैं. उन्होंने वेस्टइंडीज के पॉवेल, सैमुअल्स और रामदीन को आउट किया.

टीम इंडिया को वेस्टइंडीज के खिलाफ विकेट दिलाने का सिलसिला भी शमी ने शुरू किया.

उन्होंने पहले विकेट के तौर पर पॉवेल को लौटाया. ये ऑफ स्टंप से बाहर पहली बाउंसर गेंद थी, जिसे पॉवेल ने पुल करने की कोशिश की. गेंद बल्ले के छोर से लगकर मिडऑफ की ओर उछली. जहां थोड़ा भागते हुए भुवनेश्वर ने कैच कर लिया.

पॉवेल ने 40 गेंदों पर खेली 28 रनों की पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया.

सैमुअल्स गेंद समझ ही नहीं पाए
फिर शमी ने सैमुअल्स को तब आउट किया जब वह वेस्टइंडीज की पारी को पटरी पर लाने की कोशिश में लगे थे.

शमी की गेंद तेजी से अंदर आई. सैमुअल्स उसे समझ नहीं पाए. गेंद बैट और पैड के बीच से अंदर विकेट्स में जा लगी.

सैमुअल्स ने 65 रन बनाए. 98 गेंदों पर 11 चौके लगाने के साथ दो जोरदार छक्के उड़ाए.

शमी ने तुरंत बाद रामदीन को चार रन पर चलता कर दिया. रामदीन भी बोल्ड हुए.

इससे पहले दिग्गज बल्लेबाज गेल को भुवनेश्वर की गुडलेंग्थ गेंद पर कैच किए गए।

गेल ने 32 गेंदों पर 18 रन बनाए. उन्होंने चार चौके लगाए.

ब्रावो 23 रन बनाने के बाद रनआउट हुए.

छठा विकेट सैमी के रूप में गिरा, जिन्हें प्रज्ञान ओझा की गेंद पर 16 रनों पर कैच किया गया.

सातवां विकेट सचिन तेंदुलकर को मिला. जिन्होंने शिलांगफोर्ड को पगबाधा आउट किया.

वेस्ट इंडीज़ ने टॉस जीता
विंडीज लड़खड़ाई,सचिन ने भी झटका विकेटइससे पहले वेस्टइंडीज़ ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया.

इस मैच में सबका ध्यान महान बल्लेबाज़ सचिन तेंदुलकर पर है. ये उनका 199वां टेस्ट हैं.

इसके बाद 200वें टेस्ट मैच में वह टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले रहे हैं.

बड़ी संख्या में दर्शक केवल  सचिन को आख़िरी बार यहां खेलते देखने के लिए पहुंचे हैं.

सचिन के सम्मान के लिए यहां कई प्रोग्राम भी आयोजित किए जा रहे हैं.

International News inextlive from World News Desk