कानपुर। 24 अप्रैल 1973 को महाराष्ट्र के मुंबई में जन्में सचिन तेंदुलकर एक दिन क्रिकेट के भगवान बन जाएंगे, यह किसी ने नहीं सोचा था। सचिन के अंदर क्रिकेट खेलने का जुनून बचपन से था। यही वजह है कि 16 साल की उम्र में सचिन ने पहला इंटरनेशनल मैच खेल लिया था। तेंदुलकर काफी होनहार खिलाड़ी रहे और उन्होंने पाॅपुलैरिटी हासिल करने में बिल्कुल भी वक्त नहीं लगाया। साल दर साल वह बेहतर खिलाड़ी बनते गए और आखिर में दुनिया के महान बल्लेबाज बने। लीजेंड क्रिकेटर के रूप में आपने सचिन के काफी इंटरव्यू सुने होंगे मगर स्टार बनने से पहले सचिन का पहला इंटरव्यू कैसा था। आइए जानते हैं...

साल 1989 में मिडडे ने सचिन तेंदुलकर का पहला इंटरव्यू लिया था। यह वो साल था जब सचिन ने इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था। ये इंटरव्यू टाॅम एल्टर ने लिया था। आइए जानें सचिन से तब कैसे पूछे गए थे सवाल..

सवाल : सचिन आप अब इंटरव्यू देते-देेते थक जाते होंगे?
जवाब : हां, मुझे लगता है ये अभी शुरुआत है।

सवाल : अगर वेस्टइंडीज टूर के लिए आपका सलेक्श्न होता है, तो आपको खुशी होगी?
जवाब : हां बिल्कुल मुझे काफी खुशी होगी।

सवाल : क्या आपको मार्शल और एंबरोस जैसे तेज गेंदबाजों का सामना करने में कोई परेशानी होगी?
जवाब : नहीं मुझे किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं है।

सवाल : क्या आपको तेज गेंदबाजी का सामना करना अच्छा लगता है?
जवाब : हां, मुझे तेज गेंदबाज पसंद है क्योंकि उनकी गेंदें बल्ले में तेजी से आती हैं।

 



सवाल : स्कूल मैचों में आप गेंदबाजी भी करते थे?
जवाब : हां, मैं एक मीडियम पेसर रहा हूं।

सवाल : नेट प्रैक्टिस के दौरान कपिल देव ने आपको गेंदबाजी की, कैसा महसूस हुआ?
जवाब : वो (कपिल देव) काफी अच्छे गेंदबाज हैं। वो इनस्विंग और आउटस्विंग दोनों गेंद फेंक लेते हैं जिसे खेलने में काफी मजा आया।

सवाल : आपको क्रिकेट का कौन सा फार्मेट पसंद है?
जवाब : मुझे सारे फार्मेट पसंद हैं। वनडे, तीन दिन का और पांच दिनों वाला टेस्ट मैच।

सवाल : क्या आप हमेशा से क्रिकेटर बनना चाहते थे?
जवाब : हां, बिल्कुल

क्रिकेट के इस नियम के चलते चाहकर भी बल्लेबाजी नहीं कर पाए थे सचिन तेंदुलकर

Cricket News inextlive from Cricket News Desk