JAMSHEDPUR: शिरडी साईं बाबा की समाधि शताब्दी वर्ष में बिष्टुपुर स्थित राम मंदिर में लगाई गई साईं दर्शन प्रदर्शनी में फाइवर ग्लास से बना शिरडी का साईं दरबार भक्तों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है. इसके अलावा गुलाब और लुभान की खुशबू से पूरा माहौल साईंमय बना हुआ है. इस प्रदर्शनी का आयोजन 20 मई तक किया गया है. भक्त सुबह 9:00 बजे से रात्रि 10:00 बजे तक बाबा के दर्शन कर सकेंगे. प्रदर्शनी के पहले दिन मंगलवार को पूर्व सांसद शैलेंद्र महतो व आभा महतो ने बाबा के दरबार में हाजिरी लगाई.

राम मंदिर में श्रीसाईं जीवन दर्शन पर आधारित जीवंत 3डी प्रदर्शनी की शुरुआत हुई. इसमें साईं बाबा के जीवन से प्रेरित 60 प्रेरणादायी प्रासंगिक चित्रों का प्रदर्शन किया गया है. वहीं हॉल में बना साईं दरबार सभी के लिए आस्था का प्रमुख केंद्र है. समिति के ओम प्रकाश जग्गी ने बताया कि साईं दरबार में शिरडी के दरबार से बिलकुल भी अंतर नहीं है. प्रतिमा की ऊंचाई और बाबा की समाधि स्थल का बना चबूतरा भी पूर्ण रूप से शिरडी की तर्ज पर बना हुआ है. उन्होंने बताया कि बाबा की समाधि के शताब्दी वर्ष समारोह की शुरुआत एक अक्टूबर 2017 से शिरडी में राष्ट्रपति के हाथों हुई थी. वहीं समारोह पूर्ण 2018 में विजयादशमी के दिन होगा. देशभर में साईं भक्त विभिन्न कार्यक्रम करवा रहे हैं. इसी कड़ी में शहर के भक्तों के लिए बाबा के जीवन के 60 प्रेरक प्रसंगों को प्रदर्शनी में चित्रों के माध्यम से सजाया गया है. इसे दिलीप दिवाकर पात्रीकर और उषा त्रिवेदी ने 11 महीनों में तैयार किया है. प्रदर्शनी से हॉल पूरा मंदिर जैसा लग रहा है. इसमें प्रवेश करने से पहले पवित्र चंदन लगाया जाता है. इसके बाद अंदर भक्तिमय प्रदर्शनी और बाबा का दरबार सभी के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ.

उदी प्रसाद का हो रहा वितरण

प्रदर्शनी में आने वाले सभी श्रद्धालुओं को प्रसाद के रूप में बाबा की पवित्र उदी दी जा रही है. श्रद्धालुओं के लिए पवित्र उदी श्री साईं धाम ट्रस्ट, रांची की ओर से सप्रेम भेंट की गई है. दरबार में प्रत्येक दिन परायण एवं संध्या सात बजे से रात्रि नौ बजे तक भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा. प्रत्येक दिन दरबार में बाबा की चारों प्रहर की भव्य आरती की जा रही है.