- चाचा शिवपाल की प्रसपा के लिए कहा, वह कोई दल नहीं

-अमेठी और रायबरेली की सीट छोड़ने के बारे में बोले कि शिष्टाचार के लिए किया ऐसा

bareilly@inext.co.in

BAREILLY:
इस्लामिया इंटर कॉलेज मैदान में चुनावी जनसभा के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पत्रकारों से भी रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भाजपा एक हैं, दोनों में कोई ज्यादा फर्क नहीं। चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के लिए बोले कि वह तो कोई दल ही नहीं है।

भाजपा का मुकाबला महागठबंधन से
सपा मुखिया से कांग्रेस के घोषणापत्र में 72 हजार रुपये देने के दावे को लेकर सवाल किया गया तो उनका कहना था घोषणापत्र में दावे तो सभी करते हैं उन पर अमल कर पाना इतना आसान नहीं होता है। कांग्रेस के लिए अमेठी और रायबरेली में सीट छोड़ने के सवाल पर कहा कि शिष्टाचार में ऐसा किया है। लोकतंत्र में सीट छोड़ते हैं, उनसे कहिए कि हमारा धन्यवाद करें। शिवपाल यादव की पार्टी प्रसपा के लिए कहा कि उनके उम्मीदवारों पर नजर डाल लें, सबकुछ समझ में आ जाएगा कि उनकी पार्टी कहां खड़ी है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा से मुकाबला महागठबंधन ही कर रहा है, कोई और नहीं।

सभी आठ सीटें जीतेंगे

सपा मुखिया ने पहले चरण के मतदान को लेकर दावा किया कि यूपी में आठ की आठ सीट जीत रहे हैं। महागठबंधन उम्मीदवारों को वोट की ऐसी बारिश हुई है कि उसे देखकर विरोधियों की भाषा बदल गई।