- संजय दत्त ने खुद जताई अभियान का नेतृत्व करने की मंशा

- इन्वेस्टर्स समिट के लिए रोड शो के दौरान सीएम से हुई बात

देहरादून: बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त राज्य में नशे के खिलाफ लोगों को जागरूक करेंगे. राज्य सरकार द्वारा संजय दत्त को नशे के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान का ब्रांड एंबेसडर बनाने की तैयारी है. संजय दत्त युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हैं. ऐसे में वे युवाओं को नशे की गिरफ्त से दूर रखने में कारगर तरीके से जागरूक कर सकते हैं.

नशे पर नहीं लग पा रही लगाम

उत्तराखंड में नशे का कारोबार तेजी से फैल रहा है. नशे की गिरफ्त में सबसे ज्यादा युवा वर्ग है. लगातार नशा तस्कर धरे जा रहे हैं, लेकिन नशे पर प्रभावी लगाम नहीं लग पा रही है. पुलिस और इंटेलिजेंस के आंकडे़ भी इसकी तस्दीक कर रहे हैं. नशा तस्करों के टारगेट पर शिक्षण संस्थानों में पढ़ रहे स्टूडेंट्स हैं. पुलिस द्वारा भी कई बार नशा के प्रति युवाओं को अवेयर करने के लिए अभियान चलाया गया है. लेकिन, नशे के कारोबार पर लगाम नहीं लग पा रही है.

संजय दत्त खुद आए आगे

हाल ही में हिमाचल प्रदेश में विभिन्न राज्यों के आला अधिकारियों की बैठक हुई. बैठक में उत्तराखंड में तेजी से बढ़ रहे नशा कारोबार पर चिंता जताते हुए इसकी रोकथाम के लिए योजना बनाए जाने की जरूरत पर जोर दिया गया. ऐसे में बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त के खुद आगे आए हैं. नशे के खिलाफ अभियान को लेकर उनके आगे आने से राज्य सरकार भी उत्साहित है.

सीएम से हुई फोन पर बात

संजय दत्त ने नशे के खिलाफ अभियान में उत्तराखंड का ब्रांड एंबेसडर बनने में रुचि दिखाई है. वे खुद ड्रग्स की समस्या से जूझ चुके हैं और युवाओं के बीच उनकी लोकप्रियता भी है. ऐसे में वे नशे के खिलाफ युवाओं को जागरूक करने में असरदार साबित हो सकते हैं. सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि मुंबई में इन्वेस्टर्स समिट के लिए रोड शो के दौरान संजय दत्त से उनकी फोन पर बात हुई थी. संजय दत्त ने कहा कि वह ड्रग्स के खिलाफ खड़ा होना चाहते हैं और वह इसके लिए ब्रांड एंबेसडर बनने को तैयार हैं.