सफाईकर्मी की भर्ती में उमड़े हजारों युवा, डाकघर में हंगामा

आज है अंतिम तिथि, देर रात चल रहा स्पीड पोस्ट भेजने का काम

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: जानकर हैरानी होगी, लेकिन यह सच है. नगर निगम में सफाई कर्मचारी के लिए निकली भर्ती में बीएससी-एमएससी पास भी आवेदन कर रहे हैं. इन्हें झाड़ू लगाने और साफ-सफाई करने में कोई परहेज नहीं है. बस यह खुद पर से बेरोजगारी का ठप्पा हटाना चाहते हैं. फिलहाल, शहर के डाकघरों में इस समय भर्ती के लिए आवेदन करने वालों की भारी भीड़ उमड़ रही है. हजारों की संख्या में रोजाना आवेदन हो रहे हैं, जिनमें पुरुषों के साथ महिलाएं भी शामिल हैं.

पहले नौकरी मिले, फिर देखेंगे

13 अगस्त आवेदन की अंतिम तिथि है. इसको देखते हुए शुक्रवार को प्रधान डाकघर परिसर में हजारों की संख्या में आवेदन करने वाले उपस्थित थे. फॉर्म जमा कराने वालों की लाइन में कई ऐसे युवा भी खड़े थे, जिन्होंने बीएससी, एमएससी, बीए और एमए तक की डिग्री ले रखी है. उन्होंने बातचीत में बताया कि बेरोजगारी से निजात मिलना बड़ी चीज है. एक बार नौकरी मिल जाए तो लाइफ बन जाएगी. बाद में देखा जाएगा कि क्या करना है.

एक दिन में 35 हजार आवेदन

नगर निगम इलाहाबाद ने 916 सफाई कर्मी पदों के लिए आवेदन मांगे थे. जिसकी अंतिम तिथि शनिवार को है. सीनियर पोस्ट मास्टर आरएन यादव ने बताया कि प्रतिदिन औसतन तीस से पैतीस हजार आवेदन प्राप्त हो रहे हैं. उन्होंने बताया कि इतने आवेदनों को टाइम से पहुंचाने के लिए देर रात स्पीड पोस्ट भेजने का काम किया जा रहा है. अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि शुक्रवार सुबह मुख्य डाकघर में अन्य ब्लॉकों से आई 53 बोरे स्पीड पोस्ट प्राप्त हुई. इन्हें तत्काल नगर निगम को रिसीव कराया गया. हालांकि, निगम डाक रिसीविंग में लापरवाही बरत रहा है.

महिलाओं के लिए अलग विंडो

आवेदकों की भारी भीड़ को देखते हुए मुख्य डाकघर में महिलाओं की सुविधा के लिए अलग से विंडो बनाई गई है. इस समय कुल आठ विंडो पर आवेदन लिए जा रहे हैं. स्टाफ ने बताया कि अंतिम तिथि को देखते हुए शुक्रवार और शनिवार को देर रात तक काम होगा. इस भर्ती से डाकघर को भी अच्छी खासी आय हो रही है. शहर के दूसरे डाकघरों से भी सफाई कर्मी भर्ती के आवेदन प्राप्त किए जा रहे हैं.

बॉक्स

भीड़ संभालना हो रहा मुश्किल

मुख्य डाकघर में होने वाली भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस की सहायता लेनी पड़ रही है. हजारों की संख्या में आवेदकों के एकत्र होने से बार-बार हो-हल्ला हो रहा है. स्टाफ के लिए उनको संभालना मुश्किल हो रहा है. शुक्रवार को भी कई बार स्थिति नाजुक हो गई. आवेदकों का कहना था कि स्टाफ आवेदन लेने में ढिलाई बरत रहा है. जिससे लाइन में उन्हें घंटों खड़े होना पड़ रहा है.