18 अप्रैल को थी युवती की शादी, घर में चल रही थी तैयारियां

पड़ोस में रहने वाला आरोपी पांच साल से कर रहा था परेशान

MEERUT : एक तरफा प्यार में पागल हुए सिरफिरे युवक ने अपने पड़ोस में रहने वाली महिला अधिवक्ता की गोली मारकर हत्या कर दी। छोटी बहन ने हत्यारोपी को पकड़ने का प्रयास किया तो आरोपी ने उसकी बहन पर भी ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। गोली लगने से घायल युवती को हास्पिटल में भर्ती कराया। युवक को गिरफ्तार कर लिया गया। उसने कुछ दिन पहले युवती की हत्या करने का ऐलान भी किया था, लेकिन किसी ने गंभीरता से नहीं लिया।

क्या है मामला

गंगानगर के सी-ब्लाक मकान नंबर 402 में इनकम टैक्स के वकील मनोज शर्मा परिवार के साथ रहते हैं। उनके पड़ोस के मकान नंबर सी-403 में यूपी पुलिस में कांस्टेबल राजे सिंह का परिवार रहता है। राजे सिंह की पोस्टिंग दादरी में है। मनोज शर्मा की बड़ी बेटी दर्शिता उम्र (28) पिता के साथ इनकम टैक्स की प्रैक्टिस करती थी। मनोज कुमार शर्मा की छोटी बेटी गुणिका (20) अभी पढ़ाई कर रही है। सोमवार सुबह दोनों बहनें घर की पहली मंजिल पर बने कमरे में थी।

विलेन की तरह एंट्री

सोमवार सुबह करीब 10 बजे पुलिस कांस्टेबल राजे सिंह का पुत्र दीपक विलेन की तरह अपनी छत की दीवार से कूदकर उनकी छत से होता हुआ उनके कमरे में घुस गया। उसने दर्शिता को पकड़ लिया और खुखरी निकाल कर उसके सिर व गर्दन पर अनगिनत वार किए। जब वह खून से लथपथ होकर तड़पने लगी तो उसने पिस्टल निकाल कर उसके सिर व पेट पर तीन गोलियां मारीं। गोली लगते ही दर्शिता ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

बहन ने दिखाई हिम्मत

दर्शिता की मौत के बाद जब उसकी छोटी बहन गुर्णिका ने आरोपी युवक को पकड़ने का प्रयास किया तो उसने गुर्णिका पर भी गोली चला दी। गुर्णिका भी खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़ी। आरोपी पिस्टल लहराता हुआ पहले अपने घर पर पहुंचा।

तू मुझे भूल जाए यह मैं होने नहीं दूंगा

घटना को अंजाम देखकर बेखौफ सिरफिरा आशिक नीचे आया। ऊपर की ओर दौड़ रहे परिजनों से कहा कि दर्शिता मेरी थी, इसलिए मार डाला। फिर आरोपित चिल्लाने लगा कि तू मुझे भूल जाए यह मैं होने नहीं दूंगा। पांच साल से मैं दर्शिता से बहुत प्यार करता था। अब वह किसी और की होने जा रही थी, इसलिए उसे मार डाला।

घर के बहार खड़ा रहा

हत्या करके बाद आरोपी सिरफिरा खून से सनी खुखरी व पिस्टल लेकर अपने घर के बाहर खड़ा हो गया। जोर- जोर से चिल्लाने लगा। मौके पर पहुंचे एसओ रवि चंद्रवाल ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से पिस्टल व कारतूस समेत खून से सनी खुखरी भी बरामद की।

मां ने मांगी थी माफी

एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि दीपक ने करीब चार माह पूर्व दर्शिता के साथ रास्ते में छेड़छाड़ की थी। उस समय आरोपी के परिजनों से शिकायत की गई। आरोपी ने फिर से छेड़छाड़ कर दी। युवती के परिजनों ने मुकदमा दर्ज कराने की बात कही तो आरोपी की मां ने भरी पंचायत और रिश्तेदारों के बीच दर्शिता व उसके माता-पिता से माफी मांगी थी।

मौके पर एसएसपी

एसएसपी नितिन तिवारी ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। गिरफ्तार हुए आरोपी युवक से पूछताछ की। तनाव को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स मौके पर तैनात कर दिया गया।

साहब, इसे यहीं गोली मार दो

जब आरोपित दीपक पुलिस की जीप में बैठा, तो आरोपित की मां ने पुलिस से चीखकर कहा कि साहब इसे यहीं गोली मार दो। इसने बहुत गलत काम कर दिया है।

18 अप्रैल को थी शादी

आगामी 18 अप्रैल को दर्शिता की शादी थी। घर में शादी की तैयारियां चल रही थी। शादी के लिए विवाह मंडप समेत सभी बुकिंग हो चुकी थी। रिश्तेदार घर में आ चुके थे। कार्ड भी छपकर आ गए थे। दर्शिता की हत्या से पूरे घर में मातम का माहौल बन गया।

पहले से किया था ऐलान

सिरफिरे दीपक ने एक महीने पहले ही ऐलान कर दिया था कि अगर उसने किसी और युवक से शादी की तो वह उसकी हत्या कर देगा। लेकिन युवती व युवक के परिजन इसकी बात को हल्के में ले गए। दोनों तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई। आखिरकार सिरफिरा दीपक अपने मंसूबों में कामयाब हो गया।

------

आरोपी युवक दीपक महिला अधिवक्ता दर्शिता को काफी दिनों से परेशान कर रहा था। अब उसने महिला अधिवक्ता को गोली मारकर हत्या कर दी। उससे गिरफ्तार कर लिया गया है।

नितिन तिवारी, एसएसपी