देखा गया है कि बढ़ती उम्र के साथ बच्चों के आस-पास का वातावरण उनकी बुद्धि को काफी प्रभावित करता है, इसलिए घर के माहौल में सकारात्मक वातावरण बनाए रखने से जीवन सुधार में भी सहायक हैं। अगर घर में कहीं भी नकारात्मक वातावरण के कारण बच्चा पढ़ाई में मन नहीं लगा पता या यादाशत में कमी होने वाली जैसी समस्या पैदा हो जाती है तो कहीं न कहीं उसके जीवन सुधार में भी कुछ बाधा उत्पन हो सकती हैं। इसके लिए भी मां सरस्वती के मंत्र द्वारा निजात पा सकते हैं।

अगर बच्चों का मन पढ़ने में नहीं लगता तो ये सरस्वती मंत्र होंगे कारगर

हिन्दू पंचांग के माघ शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि यानी वसंत पंचमी को बच्चे को स्नान करवाएं और फिर उनके हाथों से महासरस्वती की मूर्ति को सफेद फूल चढ़वाएं। सफेद मिठाई का भोग लगवाएं, धूप-दीप से पूजा करवाएं और साथ ही इन मंत्रों को बच्चों से बुलवाएं या फिर स्वयं अपनी संतान की बुद्धि के लिए कामना करें।

सरस्वती मंत्र कुछ इस प्रकार हैं—

अगर बच्चों का मन पढ़ने में नहीं लगता तो ये सरस्वती मंत्र होंगे कारगर

1. ॐ महाविद्यायैनम:

2. ॐ वाग्देव्यैनम:

3. ॐ ज्ञानमुद्रायै नम:

-ज्‍योतिषाचार्य पंडित श्रीपति त्रिपाठी

मेहनत करने के बाद भी नहीं मिलती है सफलता, तो जानें क्या है बड़ा कारण

अगर आप सफल बनना चाहते हैं तो यह बात जाननी है बहुत जरूरी