-शहर के सभी थाना एरिया में चल रहा है सट्टे का अवैध कारोबार

BAREILLY: शहर में सट्टे का कारोबार जमकर फल-फूल रहा है. सट्टा पुलिस की मिलीभगत से चल रहा है. एसएसपी की सख्ती का भी असर थानों की पुलिस पर नहीं पड़ा. जब मामला आईजी तक पहुंचा तो फिर एसएसपी ने सख्त रुख इख्तियार कर लिया. यही नहीं सट्टे को पकड़ने के लिए एसपी सिटी को ही सड़क पर उतरना पड़ गया. एसपी सिटी व सीओ अलग-अलग एरिया में छापा मारकर खुद सट्टा पकड़ रहे हैं. फ्राइडे रात किला एरिया में एसपी सिटी अभिनंदन सिंह, सीओ सिटी टू सीमा यादव और सीओ सिटी वन कुलदीप कुमार बाइक से किला पुल के नीचे किला छावनी में सट्टे के फड़ पर पहुंच गए. यहां खुलेआम फड़ लगाकर सट्टा चल रहा था. मौके से दो सटोरियों को 35,505 रुपए नकद व अन्य सामान के साथ गिरफ्तार कर ि1लया गया.

रेलवे काउंटर की तरह लगाया काउंटर

एसपी सिटी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि किला छावनी में लंबे समय से सट्टा चलने की शिकायत मिल रही थी. जिसके बाद खुद ही टीम के साथ मौके पर पहुंच गए. यहां पर रेलवे काउंटर की तरह काउंटर लगाकर सट्टा लगवाया जा रहा था. सट्टा जितेंद्र कुमार के घर चल रहा था जो मौका पाकर भाग गया लेकिन मौके से सईद खां और रामस्वरूप को गिरफ्तार कर लिया गया. उनके पास से एक डायरी, दो पैन, दो कैलकुलेटर, एक संदूक और 35505 रुपए बरामद हुए हैं. दोनों को सैटरडे को कोर्ट में पेश कर जेल भेज ि1दया गया.

पुलिसकर्मियों पर एक्शन क्यों नहीं

एसपी सिटी से पहले सीओ थर्ड ने भी एक दिन पहले गंगापुर और जोगी नवादा में छापा मारकर 12 सटोरियों को गिरफ्तार कर 50 हजार रुपए बरामद किए थे. यहां भी लंबे समय से सट्टा चल रहा था, जिससे साफ है कि थाना प्रभारी, चौकी इंचार्ज और बीट कॉन्स्टेबल की मिलीभगत थी. किला में इंस्पेक्टर को अभी कुछ दिन आए हुए हैं लेकिन यहां भी सट्टा पहले से चल रहा था, जिससे साफ है कि चौकी इंचार्ज और सिपाहियों की मिलीभगत रही होगी. यही नहीं मेन आरोपी अधिकारियों के पहुंचने से पहले कैसे भाग गया, क्या सूचना लीक हुई. अब ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है कि क्या इन पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोई एक्शन लिया जाएगा.