नंबर एक: एसबीआई के सेविंग अकाउंट में जीरो बैलेंस रखने वालों को झटका लगा है। अब बैंक ने बचत खाते में न्यूनतम राशि रखने के नियम को लागू कर दिया है। यानि एसबीआई बचत खाते से ग्राहक अब महीने में तीन बार ही मुफ्त नकद लेन-देन कर पाएंगे। इसके बाद बैंक हर बार जमा या निकासी पर 50 रुपये का भुगतान करना होगा।

नंबर दो: मेट्रो शहरों में बचत खाते में कम से कम 5000 हजार रुपये, शहरी शाखाओं में 3000 रुपये, छोटे शहर के बैंक खातों में 2000 रुपये और गांव के एसबीआई शाखाओं में 1000 रुपये रखना जरूरी कर दिया गया है। ऐसा करने पर या खाते में तय राशि से कम रखने पर बैंक 200 रुपये का चार्ज अनिवार्य रूप से लेगा।  
1 अप्रैल से बैंक और रेलवे के बदले नियम से आप पर क्‍या होगा असर

नंबर तीन: अब एसबीआई के एटीएम से महीने में सिर्फ 5 बार मुफ्त में पैसा निकल सकता है। इसके बाद से आपको एटीएम से हर निकासी पर 10 रुपये का अतिरिक्‍त भुगतान करना होगा। जबकि दूसरे बैंक से 3 ट्रांजैक्शन के बाद से ही हर निकासी पर 20 रुपये का भुगतान लिया जाएगा।
1 अप्रैल से इन 10 खर्चों पर रखें ध्‍यान नहीं तो हो सकती है जेल और भारी जुर्माना

नंबर चार: वैसे यदि खाताधारक के बचत खाते में हमेशा 25000 रुपये से ज्यादा रकम होगी तो वो जितनी बार चाहें एसबीआई के एटीएम से पैसे निकाल सकता है, इसके लिए कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा।
अब ये पांच बैंक भी कहलाएंगे एसबीआई, आप भी हैं SBI कस्‍टमर तो यह खबर जरूर पढ़ें

नंबर पांच: इसका मतलब ये नहीं कि कभी कोई चार्ज नहीं लगेगा। यानि अगर खाते में 25 हजार से ज्यादा पैसे रहते हैं और कोई असीमित एटीएम का इस्तेमाल करता है तो उससे हर तीन महीने पर 15 रुपये एसएमएस का का भुगतान लिया जाएगा।

Business News inextlive from Business News Desk

Business News inextlive from Business News Desk